लोकसभा चुनाव के लिए यहां हुआ मतदान, जानें किसने डाला पहला वोट

0 258

2019 लोकसभा चुनाव का पहली वोटिंग हो चुकी है। यह वोटिंग भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) की एक चौकी पर हुआ। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पूर्वोत्तर के सुदूर पूर्वी इलाके में तैनात ITBP की एक यूनिट ने सीक्रेट पोस्टल बैलट पेपर के जरिए मतदान किया। यहां पर सर्विस वोटर्स ने मतदान शुरू किया है। 

दिल्ली से करीब 2600 किलोमीटर दूर अरुणाचल के लोहितपुर के एनिमल ट्रेनिंग स्कूल में सुबह 10 बजे मतदान शुरू हुआ। यहां पर पहला वोट एटीएएस ITBP के प्रमुख डीआईजी सुधाकर नटराजन ने डाला। राज्य के दूसरे हिस्सों में तैनात ITBP की दूसरी यूनिट्स ने भी पोस्टल बैलट की जरिए अपने वोट डाले।

कौन हैं ​सर्विस वोटर्स-

चुनाव आयोग के अनुसार वैसे व्यक्ति जो आर्म्स फोर्सेज में काम करते हैं सर्विस वोटर्स कहलाते हैं। फोर्स के वैसे जिन पर आर्मी एक्ट 1950 लागू होता है वो भी ​सर्विस वोटर्स माने जाते हैं। आर्म्स पुलिस फोर्स के वैसे सदस्य जो अपने राज्य से बाहर काम कर रहे हैं अथवा भारत सरकार के लिए काम कर रहा वैसा व्यक्ति जो देश से बाहर काम कर रहा है वो भी सर्विस वोटर्स कहलाता है।

23 मई को चुनाव मतगणना शुरू होने से पहले सभी मतपत्र सर्विस वोटर्स द्वारा डाक के जरिए गणना में शामिल करने के लिए भेजे जाएंगे। सर्विस वोटर्स इस बार ‘इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम’ (ETBS) के जरिए वोट डाल रहे है। इस शॉर्टकट में E-ballots नाम से भी जाना जाता है।

23 मई को होगी मतगणना-

सर्विस वोटरों को डाक से मतपत्र भेजे जाते थे। फिर मतपत्र डाक से ही वापस आते थे। इन मतपत्रों से लेकर लिफाफे पर पांच QR कोड बने होंगे। आयोग इनके मिलान के बाद ही मतदान को स्वीकार करता है।

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 में पहले चरण की वोटिंग 11 अप्रैल, दूसरे चरण की 18 अप्रैल, तीसरे चरण की 23 अप्रैल, चौथे चरण की 29 अप्रैल, पांचवें चरण की 6 मई, छठे चरण की 12 मई और सातवें व अंतिम चरण की 19 मई को वोटिंग होगी। मतगणना 23 मई को होगी।

यह भी पढ़ें: शत्रुघ्न सिन्हा ने थामा कांग्रेस का ‘हाथ’, कहा – BJP में अब तानाशाही लोग हैं

यह भी पढ़ें: इस एक्टर की PM को सलाह – पप्पू से सीखने की जरूरत है…

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More