पद्म भूषण से सम्मानित राहुल बजाज का हुआ निधन, 50 वर्षों तक रहे बजाज ग्रुप के चेयरमैन

देश की जानी मानी कंपनी के पूर्व चेयरमैन राहुल बजाज का 83 वर्ष की उम्र में पुणे में निधन हो गया। बजाज पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे।

0 243

देश की जानी मानी कंपनी के पूर्व चेयरमैन राहुल बजाज का 83 वर्ष की उम्र में पुणे में निधन हो गया। बजाज पिछले कुछ समय से बीमार चल रहे थे। बता दें कि आज यानी 12 फरवरी, शनिवार दोपहर करीब 2 बजकर 30 मिनट पर उनका निधन हो गया। 50 साल तक बजाज कंपनी का कार्यभार सम्हालने वाले राहुल बजाज पद्मभूषण से भी सम्मानित थे। यहां तक कि बजाज 2006 से 2010 तक राज्यसभा के भी सदस्य भी रहे हैं।

भाजपा नेता ने ट्वीट कर दी श्रद्धांजलि:

बता दें कि राहुल बजाज के निधन पर भाजपा के केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने बजाज के साथ लंबे व्यक्तिगत संबंधों को याद करते हुए परिजनों को सांत्वना दी है। उन्होंने बजाज ऑटो में गैर-कार्यकारी निदेशक और चेयरमैन पद से 30 अप्रैल 2021 में इस्तीफा दे दिया था।

2001 में पद्म भूषण से हो चुके हैं सम्मानित:      

राहुल बजाज ने बजाज समूह को उसकी बुलंदियों तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उनकी बदौलत आज मार्केट में बजाज की कंपनी का नाम उंचाइयों पर बना हुआ है। इतना ही नही राहुल बजाज राज्य सभा सांसद के तौर पर राजनीति में भी वर्चस्व कमाया और उन्हें 2001 में पद्म भूषण से सम्मानित भी किया गया है।

इतने साल तक रहे राज्यसभा सदस्य:

राहुल बजाज देश के सबसे सफल उद्योगपतियों में से एक थे। साथ ही वो 2006 से लेकर 2010 तक राज्य सभा के सदस्य भी रहे। वह अपनी खुलकर बोलने के लिये जाना जाता है।

 

यह भी पढ़ें: स्वर कोकिला लता मंगेशकर के निधन से शोक में डूबा देश, 2 दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित 

यह भी पढ़ें:ऑटो चालक ने युवती के साथ किया दुष्कर्म, ब्लैकमेल कर कई बार बुझाई हवस

(अन्य खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें। आप हमेंट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More