‘ममता कहीं हिरण्यकश्यप के खानदान की तो नहीं’

0 180

लोकसभा चुनाव के बाद से पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है। चुनावों में हार का सामना कर रही टीएमसी के जख्मों पर नमक छिड़कते हुए बीजेपी ने दस लाख पोस्टकार्ड पर जय श्री राम लिखकर लिखकर भेजने का फैसला किया है।

वहीं भाजपा के सांसद साक्षी महाराज ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को हिरण्यकश्यप के खानदान का बताया है। हरिद्वार में साक्षी महाराज ने कहा कि ममता बनर्जी जय श्री राम बोलने पर जेल भेजने की बात करती हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल का नाम आते ही त्रेता युग की याद आती है।

‘ममता का शासन अलगाववाद से कम नहीं’

साक्षी महाराज ने कहा कि राक्षस राजा हिरण्यकश्यप अपने बेटे को जय श्री राम बोलने पर जेल में डालकर यातनाएं देता था। बंगाल में ममता भी यही कर रहीं हैं। जय श्री राम बोलने पर जेल में डालकर यातनाएं दे रहीं हैं। ममता कहीं हिरण्यकश्यप के खानदान की तो नहीं हैं?

भाजपा सांसद ने कहा कि ममता का शासन अलगाववाद से कम नहीं है। इससे बंगाली आहत हैं और इसका खामियाजा ममता को भुगतना पड़ेगा। साक्षी महाराज ने भरोसा जताया कि विधानसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में बीजेपी की सरकार बनेगी।

यह भी पढ़ें: ‘जय श्री राम’ पर फिर बिफरीं ममता, BJP पर लगाये ये आरोप

यह भी पढ़ें: ममता बनर्जी के PM शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होने की सबसे  वजह ये है

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More