वीडियो कैंपेन को लेकर सपा और भाजपा में तीखी नोंकझोंक, बीजेपी की पंच लाइन- आएंगे तो योगी ही

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 जैसे-जैसे करीब आता जा रहा है, सियासी सरगर्मी तेज होती जा रही है। सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपने चुनावी कैंपेन को भी गति प्रदान करना शुरू कर दिया है।

0 282

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 जैसे-जैसे करीब आता जा रहा है, सियासी सरगर्मी तेज होती जा रही है। सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपने चुनावी कैंपेन को भी गति प्रदान करना शुरू कर दिया है। प्रतिदिन नए गानों, नए नारों के जरिए राजनीतिक दल जनता के बीच में जा रहे हैं। इसी बीच समाजवादी पार्टी ने भाजपा के खिलाफ एक नया नारा दिया है- खेला होइबे, खदेड़ा होइबे।

सपा का चुनावी गीत:

यूपी में अगले साल होने वाले चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने अपना गीत लॉन्च कर दिया है। सपा के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर शेयर इस गीत का शीर्षक ‘यूपी में खेला होईबे, खदेड़ा होइबे’ है। समाजवादी पार्टी द्वारा लॉन्च किए गए इस सॉन्ग में जहां एक तरफ अखिलेश की रैली में उमड़ी भारी भीड़ को दिखाया गया है, वहीं गाने के जरिए बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा गया है।

बीजेपी ने किया पलटवार:

समाजवादी पार्टी के चुनावी गीत ‘यूपी में खेला होईबे’ के ट्वीट के बाद भारतीय जनता पार्टी ने पलटवार किया है। बीजेपी ने 58 सेकंड का एक कैंपेन वीडियो ट्वीट करके लिखा झंडा बीजेपी का लहरी, केहू आगे नाही ठहरी। यही यूपी के पुकार, फेर बनी भाजपा सरकार।

अगले साल होना है विधानसभा चुनाव:

बता दें कि 14 मई को यूपी विधानसभा का कार्यकाल समाप्त हो जाएगा। ऐसे में अगले साल फरवरी के अंत या मार्च में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव होने की उम्मीद है। देश के सबसे बड़े और राजनीतिक रूप से सबसे महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में 403 विधानसभा सीटें हैं, बहुमत के लिए 202 सीटों की आवश्यकता होती है।

 

यह भी पढ़ें: Kanpur Cantonment Assembly: इस मुस्लिम बाहुल्य सीट पर क्या फिर काबिज होगी बीजेपी? 26 साल तक लगातार खिला था कमल

यह भी पढ़ें: Chunar Assembly: इस पटेल बाहुल्य सीट पर भाजपा का रहा है दबदबा, कभी नहीं जीत पाई BSP

(अन्य खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें। आप हमेंट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More