पाक में आर्थिक संकट, सेंट्रल बैंक की अपील- वर्क फ्रॉम होम करो, पेट्रोल बचाओ और AC कम चलाओ

0 47

इन दिनों पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान भयंकर आर्थिक संकट से जूझ रहा है. इस समय वहां का आलम ये है कि पाकिस्तानी आवाम से पेट्रोल बचाने, एसी कम चलाने और चाय कम पीने जैसी अपीलें की जा रही हैं. इन सबके बीच सेंट्रल बैंक ने भी अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम करने की अपील की है. बैंक ने कर्मचारियों से कहा ‘वर्चुअल मीटिंग में शामिल हों और सप्ताह में दो दिन घर से ही काम करें. सरकार के पास पेट्रोल और डीजल खरीदने के लिए पैसों की कमी है, ऐसे में बचत करना जरूरी हो गया है.’ पाकिस्तान सरकार का कहना है कि यदि हमें श्रीलंका जैसे हालातों से बचना है तो कड़े फैसले लेने होंगे.

आयात का संकट : दो माह में पाकिस्तान में भी हो सकती है श्रीलंका जैसी हालत - Lagatar

पाकिस्तान की तरफ से आम जनता को पेट्रोल-डीजल बचाने की सलाह दी जा रही है ताकि डॉलरों की कमी न रहे. इसी कड़ी में पाकिस्तान स्टेट बैंक ने गुरुवार को कर्मचारियों से कहा ‘वर्चुअल मीटिंग्स में आएं. ऑफिस आने के लिए कार पूलिंग को प्राथमिकता दें और एसी के इस्तेमाल में कमी लाएं.’ इतना ही नहीं, बैंक ने फर्नीचर की खरीद पर और कर्मचारियों के ट्रैवल पर भी रोक लगाई है, जिससे की पैसे बचाये जा सके. बैंक ने कहा ‘हमने ये फैसले इसलिए लिए हैं ताकि काम प्रभावित न हो और पैसों की बचत भी की जा सके.’

वर्क फ्रॉम होम करो पैसे बचाने हैं... पाकिस्तान के सेंट्रल बैंक की स्टाफ को सलाह - work from home to save fuel pakistan central bank tells staff – News18 हिंदी

उधर, पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक ने कहा ‘हम बैंकिंग इंडस्ट्री और अन्य संबंधित पक्षों से अपील करते हैं कि वे ईंधन की ज्यादा से ज्यादा बचत करें.’ बता दें इससे पहले पाकिस्तान सरकार ने भी कराची, लाहौर, इस्लामाबाद और रावलपिंडी समेत कई शहरों में बाजारों को जल्दी बंद करने का आदेश दिया है. इसके अलावा शॉपिंग मॉल और फैक्ट्रियों को भी शाम को जल्दी बंद करने का आदेश दिया गया है.

पाकिस्तान के केंद्रीय बैंक ने मुख्य नीतिगत दर 150 बीपीएस बढ़ाकर 13.75% की - Hindiakhabar

बता दें कि बीते एक महीने के अंदर ही शहबाज शरीफ सरकार की ओर से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 83 फीसदी तक का इजाफा किया जा चुका है.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More