यूपी में बढ़ रहे कोरोना के केस, CM योगी ने अफसरों को दिए निर्देश

0 51

यूपी में एक बार फिर से कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से फैल रहा है. जिसके चलते बुधवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसरों के साथ बैठक की. इस बैठक में सीएम योगी ने अफसरों को सतर्क रहने को कहा है. सीएम योगी ने 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को तेजी से बूस्टर डोज देने का निर्देश दिया है.

सीएम योगी ने कहा कि ‘विगत एक सप्ताह से कोविड के नए केस में बढ़ोतरी देखी जा रही है. हालांकि, उत्तर प्रदेश में पॉजिटिविटी दर न्यूनतम है. वर्तमान में कुल एक्टिव केस की संख्या 3,257 है. विगत 24 घंटों में 91 हजार से अधिक टेस्ट किए गए और 682 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई. इसी अवधि में 352 लोग उपचारित होकर कोरोना मुक्त भी हुए. 3,082 लोग घर पर स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं. यह समय सतर्क और सावधान रहने का है.’

682 new cases of corona case found in up in last 24 hours nrj | यूपी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 682 नए मामले मिले, टीम-9 की बैठक में दिये गए कई अहम निर्देश

सीएम योगी ने कहा ‘कोविड की बदलती परिस्थितियों पर सूक्ष्मता से नजर रखी जाए. सभी अस्पतालों में चिकित्सकीय उपकरणों की क्रियाशीलता, डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ की समुचित उपलब्धता की गहनता से परख कर ली जाए. आवश्यक दवाओं के साथ मेडिसिन किट तैयार करा लिए जाएं. सार्वजनिक स्थानों पर फेस मास्क लगाए जाने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से आमजन को जागरूक किया जाए.’

सीएम योगी ने कहा ‘संचारी रोगों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए 1 जुलाई से प्रदेशव्यापी अभियान शुरू हो रहा है. ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता, फॉगिंग सैनिटाइजेशन के संबंध में जागरूकता बढ़ाये जाने की जरूरत है. अभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए सभी जरूरी तैयारियां कर ली जाएं. जनप्रतिनिधि गणों का भी सहयोग लिया जाना चाहिए.’

up hindi news: उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 491 नए संक्रमित मरीज मिले है Corona positive 491 patient found in uttarpradesh - Navbharat Times

बता दें यूपी में फिलहाल कोविड टीकाकरण अभियान की प्रगति संतोषप्रद है. 33 करोड़ 73 लाख से अधिक कोविड टीकाकरण के साथ ही 18 वर्ष से अधिक आयु की पूरी आबादी को टीके की कम से कम एक डोज लग चुकी है, जबकि 96 प्रतिशत से अधिक वयस्क लोगों को दोनों खुराक मिल चुकी हैं. 15-17 आयु वर्ग के 99.27 प्रतिशत किशोरों और 12 से 14 आयु वर्ग के 94.55 प्रतिशत से अधिक बच्चों को टीके की पहली खुराक दी जा चुकी है. 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज दिए जाने में तेजी की अपेक्षा है. बच्चों को दूसरी डोज समय से दी जाए.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More