यूपी: जामा मस्जिद को बम से उड़ाने और इमाम को गोली मारने की धमकी भरा पर्चा चस्पा, आरोपी मो. समद गिरफ्तार, बताई ये वजह

0 316

यूपी के बरेली से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक युवक ने जामा मस्जिद को बम से उड़ाने और वहां के इमाम को गोली मारने की धमकी की दी. जिसका पर्चा चस्पा किया है. हालांकि, आरोपी युवक मो. समद को किला पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उसने अपना जुर्म भी कबूल कर लिया है. आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेजा जायेगा. वहीं, इस मामले में मस्जिद के इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम ने अपनी बात कही है.

मस्जिद के इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम ने कहा ‘सुबह जब मैं मदरसा में पढ़ा रहा तो यहां से मेरे पास फोन पहुंचा कि कोई धमकी भरा पत्र मस्जिद के बाहर वजूखाने की दीवार पर चस्पा था. जब मैंने ये पत्र पढ़ा तो मुझे हंसी आई कि ये किसी की नादानी है. जिसने भी ये किया है बहुत गलत किया है. ये मस्जिद अल्लाह का घर है, उसमें बम रखने की बात करना ये बहुत बड़ी बात है. हमें शिकायत दर्ज करा दी है, उसको संज्ञान में लेना चाहिए.’

इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम ने कहा ‘मेरी किसी से भी ज्यादती मामला भी नहीं, पूरा मोहल्ला मुझसे खुश है. सारे नमाजी खुश हैं. धमकी ये है कि किसी भी जुमे को मस्जिद में बम रखा जायेगा. इस इमाम को निकाला जाये. मस्जिद से दूर रहें. खुर्शीद आलम को निकाला जाये, नहीं तो गोली पड़ेगी.’

वहीं, आरोपी युवक मो. समद ने बताया कि ‘मुफ्ती खुर्शीद आलम ने ईद पर निकलने वाले जुलूस में डीजे बजाने से मना किया था. इस बात से नाराजगी थी. उन्हें मस्जिद से निकलवाने के लिए गोली मारने और बम से उड़ाने की धमकी दी थी. अब आगे से ऐसा नहीं करूंगा. मुझसे गलती हो गई.’

इस मामले में एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने बताया कि बुधवार सुबह 06:00 बजे थाना किला में जामा मस्जिद की दीवार पर धमकी भरा पर्चा चिपका हुआ था. इसमें मस्जिद को बम से उड़ाने एवं मस्जिद के इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम को गोली मारने की धमकी दी गई थी. थाना किला में मुकदमा दर्ज किया गया था. पुलिस ने इस मामले में किला के रहने वाले मो. समद पुत्र नसीम अहमद (25) को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में उसने धमकी देने और पर्चा चिपकाने का जुर्म कबूल कर लिया है.

Also Read: लखनऊ: जय श्रीराम बोलकर मंदिर में घुसा तौफीक अहमद, फिर हनुमान जी और शनि देव की तोड़ी मूर्तियां

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More