यूपी में अब ऑनलाइन कम दाम पर मिलेगा गिट्टी, मौरंग व बालू, पोर्टल लांच

शासन ने उपखनिज गिट्टी, मौरंग व बालू को यूपी मिनरल मार्ट पोर्टल से सीधे खरीदारी की सुविधा राज्य के लोगों को दी है।

0 319

उत्तर प्रदेश में गिट्टी मौरंग व बालू अब वाजीब दाम पर उपलब्ध होगी। शासन ने उपखनिज गिट्टी, मौरंग व बालू को यूपी मिनरल मार्ट पोर्टल से सीधे खरीदारी की सुविधा राज्य के लोगों को दी है। इससे इनके दामों में सरकार कमी लाने के प्रयास में है। खनन विभाग की वेबसाइट पर उप खनिजों का जिलेवार विवरण मुहैया करा दिया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से निर्माण एजेंसियों के साथ आम आदमी भी अपने जरुरत के हिसाब से उपखनिजों की खरीद कर सकेंगे।

खनिजों के भण्डारण स्थानों का जिलेवार विवरण:

घर बना रहे लोग सीधे इस पोर्टल के जरिए अपनी जरुरत के अनुसार खनिजों की खरीदारी कर सकते हैं। इस वेबसाइट पर गिट्टी, मौरंग व बालू के भण्डारण स्थानों का विवरण जिलेवार उपलब्ध है। इस पोर्टल का उद्देश्य यूपी की जनता को कम दामों पर उपखानिजों को उपलब्ध कराना है।

बाधारहित खरीद बिक्री:

यूपी मिनरल पोर्टल पर उभोक्ता बिना किसी बाधा के अपने जरुरत के उपखनिज आपूर्तिकर्ताओं से खरीद सकते हैं। ख़रीदार एक क्लिक पर सरकार से मान्यता प्राप्त सप्लायर से जुड़ जायेंगे। पोर्टल पर आपूर्तिकर्ता अपना पंजीकरण कराएंगे इसके बाद पोर्टल की तकनीकी टूल्स के द्वारा प्रतिदिन उप खनिज दरों में परिवर्तन कर सकेंगे।

आर्डर अस्वीकार करने पर कोई शुल्क नहीं:

यह एक पारदर्शी व्यापार प्रणाली है जिसके माध्यम से उपभोक्ता जिस जगह पर चाहेगा उस जगह पर उपखनिज का आपूर्ति करा सकता है। पोर्टल पर धनवापसी का भी विकल्प दिया गया है। यदि उपभोक्ता को चयनित खनिज के गुणवत्ता पर संदेह है तो वह खनिज आर्डर को अस्वीकार भी कर सकता है। जिसका कोई भी शुल्क देय नहीं होगा। यूपी मिनरल मार्ट के संबंध में जानकारी के लिए उपभोक्ता मोबाइल नंबर 8800191126 पर भी संपर्क किया जा सकता है। या फिर सीधे www।upmineralmart।com पर जाकर अपनी जरूरत के खनिज आर्डर कर सकते हैं।

 

यह भी पढ़ें: IND vs ENG: अभी तो इस बाज की असली उड़ान बाकी है, अभी तो इस परिंदे का इम्तेहान बाकी है….

यह भी पढ़ें: अनोखा है कानपुर का जगन्नाथ मंदिर, गर्भगृह में लगा चमत्कारी पत्थर करता है ‘भविष्यवाणी’

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

 

 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More