मिशन शक्ति की कामयाबी पर बोले जेटली – पिछली सरकार ने नहीं दिखाई थी इच्छाशक्ति

0 205

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मिशन शक्ति’ की उपलब्धियों को देशवासियों के साथ साझा किया। उन्होंने बताया कि अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत अंतरिक्ष में उपग्रह को मार गिराने की क्षमता हासिल करने वाला विश्व का चौथा देश बन गया है।

एंटी सैटेलाइट मिसाइल परिक्षण ‘मिशन शक्ति’ को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पूर्ववर्ती संप्रग सरकार पर ​वार करते हुए कहा कि वैज्ञानिक एक दशक पहले ही एंटी सैटेलाइट मिसाइल बनाने में सक्षम थे लेकिन उस समय की सरकार ने उन्हें ऐसा करने नहीं दिया।

जेटली ने साधा विपक्ष पर निशाना-

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए जेटली ने कहा, ‘जो लोग अपनी नाकामियों के लिए अपनी पीठ थपथपाते हैं उनको याद रहना चाहिए कि उनसे जुड़ी कहानियों के पद चिन्ह बहुत दूर तक हैं और कहीं न कहीं ये पद चिन्ह मिल ही जाते हैं।’

आगे उन्होंने कहा, ‘हर तरह की लड़ाई के लिए हमें तैयारी करनी है और हमारी तैयारी ही हमारी सुरक्षा है। आज जो अंतरिक्ष क्षेत्र की सफलता प्राप्त हुई है, सौ प्रतिशत भारतीय प्रयासों का नतीजा है। इसकी हर चीज का भारत में शोध हुआ और भारत में ही निर्माण हुआ।’

देश की सुरक्षा के लिए अहम ‘मिशन शक्ति’-

जेटली ने कहा, ‘इस प्रकार की ताकत के साथ भारत की केवल शक्ति ही नहीं बढ़ेगी बल्कि इस क्षेत्र में शांति रखने की हमारी क्षमता भी बढ़ेगी। यहां हम राष्ट्रीय सुरक्षा की बात कर रहे हैं और दूसरी तरफ विपक्षी दल कह रहें हैं कि अब क्यों किया है चुनाव के बाद करते।’

इस दौरान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस मिशन को देश की सुरक्षा के लिए अहम बताया। उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि षड़यंत्र के तहत कांग्रेस झूठे कैंपेन चला रही है और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी इसमें शामिल होते हैं। इस लोक सभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने षड़यंत्र को ही अपना कैंपेन चुना है।

रक्षामंत्री ने विपक्ष पर कसा तंज-

आगे कहा कि कांग्रेस ने कल एक स्टिंग ऑपरेशन करके TNN World वेबसाइट बेस्ड द्वारा एक खुलासा किया है। ये वही वेबसाइट थी, जिसके कार्यक्रम में जनवरी में लन्दन में कपिल सिब्बल जी EVM पर बोले थे जो बाद में गलत साबित हुए थे।

बता दें कि भारत ने आज एक अभूतपूर्व सिद्धि हासिल की है। भारत में अपना नाम ‘स्पेस पावर’ के रूप में दर्ज करा दिया है। अब तक रूस, अमेरिका और चीन को ये दर्जा प्राप्त था, अब भारत को भी यह उपलब्धि हासिल की है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए देश के वैज्ञानिकों को बधाई दी। पीएम ने कहा इस उपलब्धि से देश की रणनीतिक और सुरक्षा क्षमताओं को बढ़ावा मिलेगा।

यह भी पढ़ें: वीडियो जारी कर विपक्ष का दावा, नोटबंदी सबसे बड़ा घोटाला

यह भी पढ़ें: अमेरिका, रूस और चीन के बाद चौथा अंतरिक्ष महाशक्ति बना भारत : पीएम मोदी

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More