एक्जिट पोल आते ही मध्य प्रदेश भाजपा में शुरू हुई रार

0 220

मध्य प्रदेश में पिछले 15 साल से सत्ता पर काबिज बीजेपी को इस बार कांग्रेस से कड़ी टक्कर मिल रही है।एक्जिट पोल भी बता रहे हैं कि इस बार बीजेपी को कांग्रेस से कड़ी टक्कर मिली है। इधर राज्य में पार्टी की हालत पतली देख कुछ भाजपा नेता भी बयान देने लगे हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद रघुनंदन शर्मा ने कहा है कि लगता है कि हमें बड़ा नुकसान होने वाला है।

एग्जिट पोल बीजेपी के पक्ष में नहीं हैं

रघुनंदन शर्मा ने कहा कि एग्जिट पोल बीजेपी के पक्ष में नहीं हैं। उन्होंने ये भी कहा कि अगर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अकेले जीत का श्रेय लेते हैं तो हार की जिम्मेदारी भी उन्हीं की है। शिवराज के सबसे बड़ा सर्वेयर वाले बयान पर भी तंज करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चुनाव परिणामों को लेकर अति उत्साहित हैं। रघुनंदन शर्मा ने शिवराज के आरक्षण पर दिए माई के लाल वाले बयान को भी नुकसानदेह बताया। उन्होंने कहा कि उनके इस बयान से भाजपा को लगभग 15 सीटों का नुकसान उठाना पड़ सकता है।

Also Read : मोदी सरकार से केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने दिया इस्तीफा

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल

गौरतलब है कि इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक प्रदेश में कांग्रेस और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर है। लेकिन कांग्रेस मामूली बढ़त के साथ आगे है। पोल के मुताबिक 230 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी को 102 से 120 सीट और कांग्रेस को 104 से 122 सीटें मिलने का अनुमान है। बसपा को 3 और अन्य को 3 से 8 सीटें मिलने का अनुमान है। 2013 के चुनाव में बीजेपी को 165 और कांग्रेस को 58 सीटें मिली थीं।

कांग्रेस को एमपी में 41 फीसदी वोट मिल सकते हैं

अगर वोट शेयर की बात की जाए तो कांग्रेस को एमपी में 41 फीसदी वोट मिल सकते हैं। हालांकि बीजेपी का वोट शेयर कांग्रेस से मात्र एक फीसदी कम है। यहां पर पार्टी को 40 फीसदी वोट मिलता दिख रहा है। वहीं बीएसपी को 4 प्रतिशत वोट मिल रहे हैं, जबकि अन्य को जिनमें एसपी और जीजीपी शामिल हैं, उन्हें 15 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More