लापता पोस्टर को लेकर स्मृति का पलटवार, कांग्रेस से पूछे इन सवालों के जवाब

0 531

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट्स की एक सीरीज में अपने निर्वाचन क्षेत्र अमेठी से उनकी ‘अनुपस्थिति’ पर सवाल उठाने के लिए कांग्रेस पर पलटवार किया है। स्मृति ईरानी के ‘लापता’ बताने वाले इस पोस्टर को सोमवार अमेठी में देखा गया। कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह द्वारा अपने ट्विटर हैंडल से स्मृति की अनुपस्थिति को लेकर सवाल उठाए गए।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, “अमेठी में कोरोना ने पहली बार तब कदम रखा, जब आपके नेताओं ने लॉकडाउन के नियम तोड़े। अब आप चाहते हैं कि मैं लोगों को अपने घरों से बाहर निकलने के लिए प्रोत्साहित करूं ताकि आप ट्विटर-ट्विटर खेल सकें? अमेठी शायद आपको प्यारी न होगी, लेकिन मुझे है। लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ करना बंद करें।”

एक अन्य ट्वीट में केंद्रीय मंत्री ने लिखा, “सभी नियमों को ध्यान में रखते हुए अब तक 22,150 प्रवासी मजदूर बस से और 8322 ट्रेन से अमेठी में लौट आए हैं। मैं एक-एक परिवार, एक-एक व्यक्ति का नाम बता सकती हूं। क्या सोनिया जी रायबरेली के लिए यही विवरण दे सकती हैं?”

उनके खिलाफ लगाए गए लापता पोस्टर पर बात करते हुए स्मृति ने ट्वीट किया, “अगर आपने पोस्टर लगाए हैं, तो कम से कम अपना नाम भी दे देतें। इतना क्यों शर्माना? क्या ऐसा इसलिए है क्योंकि आप जानते हैं कि जनता शायद उन्हें कभी माफ नहीं करेगी जिन्होंने शर्मनाक ढंग से उस वाक्ये का हवाला दिया है, जहां मैं एक स्थानीय नेता के दाह संस्कार में शामिल हुई थी?”

उन्होंने आगे कहा कि वह लगातार जिला अधिकारियों के संपर्क में रही हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए प्रयास किया है कि हर संबंधित व्यक्ति को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ मिल सकें।

उन्होंने पूछा, “कृपया हमें बताएं कि कितनी बार सोनिया जी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र के लिए इस तरह के प्रयास किए हैं?”

स्मृति ने आगे यह भी कहा, “मैं आठ महीने में दस बार अमेठी गई हूं और 14 दिन अमेठी में बिताए हैं। सोनिया जी कितनी दफा गई हैं अपने निर्वाचन क्षेत्र में?”

स्मृति ईरानी के खिलाफ इस लापता पोस्टर को कांग्रेस के विभिन्न नेताओं द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर व्यापक रूप से साझा किया गया, हालांकि उन्होंने इस तथ्य को स्वीकारने से इंकार कर दिया कि पोस्टर पार्टी के नेताओं द्वारा ही लगाए गए हैं।

पोस्टर में बताया गया कि बीजेपी सांसद ने 2019 का चुनाव जीतने के बाद केवल दो ही बार महज कुछ घंटों के लिए जिले का दौरा किया है।

इस ब्लैक एंड व्हाइट पोस्टर में स्मृति की तस्वीर के साथ आगे यह भी लिखा है, “हमने आपको ट्विटर के माध्यम से अंताक्षरी खेलते हुए देखा है। हमने आपके माध्यम से एकात व्यक्ति को लंच देते हुए देखा है, लेकिन अमेठी के सांसद होने के नाते से आज इस विपरीत समय में अमेठी की मासूम जनता अपनी आवश्यकताओं और परेशानियों के लिए आपको ढूंढ़ रही है, बिगत कई महीनों की परेशानियों के बीच में यूं ही अमेठी की जनता को निराश्रित छोड़ देना यह दर्शाता है कि शायद अमेठी आपके लिए महज टूर हब है। क्या अब आप अमेठी में सिर्फ कंधा ही देने आयेंगी?”

ऑल इंडिया महिला कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस पोस्टर को शेयर किया गया है।

यह भी पढ़ें: नागरिकता कानून को लेकर स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर जमकार साधा निशाना

यह भी पढ़ें: अपने मॉडलिंग के दिनों में ऐसी दिखती थीं स्मृति ईरानी

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्पडेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More