आरक्षण खत्म होने से लोगों के अधिकार खत्म हो जाएंगे : सावित्री बाई फुले

0 209

उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की बागी सांसद सावित्रीबाई फुले ने आरक्षण के मुद्दे पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि आरक्षण खत्म हुआ तो देश का बहुजन समाज ही नहीं बल्कि पूरे देश के लोगों के अधिकार खत्म हो जाएंगे। बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट के जज कह रहे हैं कि आज भारत का लोकतंत्र खतरे में है। कभी कहा जा रहा है कि हम भारत के संविधान को बदलने के लिए आए हैं, कभी कहा जा रहा है कि हम आरक्षण को समाप्त करेंगे, भारत के संविधान की समीक्षा करेंगे। भारत के आरक्षण को ऐसा समाप्त करेंगे कि रहना ना रहना एक बराबर हो जाएगा।’

आरक्षण खत्म होने से लोगों के अधिकार खत्म हो जाएंगे

यही नहीं, सावित्रीबाई फुले ने यह भी कहा, ‘आरक्षण खत्म हो जाएगा तो देश का बहुजन समाज ही नहीं पूरे देश के लोगों के अधिकार खत्म हो जाएंगे।’ बयानों से बीजेपी की फजीहत हो रही है।

Also Read : नूरपुर उपचुनाव : अखिलेश ने शिवपाल को स्टार प्रचारकों की लिस्ट…

अपनी ही पार्टी पर हमलावर हैं सवित्रीबाई फूले

बता दें कि बीजेपी सांसद सावित्रीबाई फुले अपनी ही पार्टी पर लंबे समय से हमला कर रही हैं। एससी-एसटी ऐक्ट को लेकर किए गए भारत बंद के दौरान उत्तर प्रदेश में मारे गए लोगों को उन्होंने राज्य की योगी सरकार द्वारा 50-50 लाख रुपये बतौर मुआवजा देने को कहा था। इसके साथ ही उन्होंने कहा था मृतक लोगों के परिजनों में से किसी एक को सरकारी नौकरी भी दी जानी चाहिए।

‘महापुरुष थे मोहम्मद अली जिन्ना’

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर से जुड़े विवाद में भी सावित्रीबाई फुले ने बयान देकर बीजेपी की फजीहत कराने का इंतजाम कर दिया। उन्होंने कहा था, ‘जिन्ना देश के महापुरुष थे और रहेंगे। ऐसे महापुरुष की तस्वीर जहां जरूरत हो उस जगह पर लगाई जानी चाहिए।’ यही नहीं फुले ने यह भी आरोप लगाया कि गरीबी, भुखमरी जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए जानबूझकर ऐसे मामले उठाए जा रहे हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More