तालिबान के कब्जे से दूर है यह इलाका, यहां अभी भी लहरा रहा अफगानिस्तान का झंडा

0 413

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल सहित अधिकतर हिस्सों पर कब्जा करने के बाद तालिबान जब पंजशीर की ओर बढ़ा तो उसे मुंह की खानी पड़ी। बात दें कि अफगानिस्तान का एकमात्र इलाका पंजशीर जो कि तालिबान के कब्जे से बाहर है।

पंजशीर के कार्यवाहक राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह ने इसे तालिबान का आत्मघाती कदम बताया है। सालेह का दावा है कि पंजशीर की तरफ जाने वाले सलांग हाइवे को बंद कर दिया गया है।

हथियारबंद वाहन और हथियार छोड़ काबुल भागे तालिबानी-

पंजशीर के रास्ते में अंद्राब घाटी में नॉदर्न अलायंस के हमले में कई तालिबानी आतंकियों के मारे जाने का दावा है। यहां घात लगाकर तालिबान पर हमला किया गया था। इससे पहले बागलान के जबल-ए-सिराज में भी 300 से ज्यादा तालिबानियों को मारने का दावा किया जा रहा है।

तालिबानी बागलान में 30 से ज्यादा हथियारबंद वाहन, लैंडमाइन और हथियार छोड़कर काबुल भाग गए हैं। काबुल से बागलान की दूरी करीब 263 किलोमीटर दूर है। यहां तालिबानियों को मिली हार की धमक काबुल की सत्ता पर कब्जा कर चुके तालिबानी आतंकियों को डरा रही होगी।

यह भी पढ़ें: तालिबानी शासन में बुर्का जरूरी नहीं, अफगान महिलाओं को पहनना ही होगा हिजाब

यह भी पढ़ें: तालिबानियों ने 150 भारतीयों को किया किडनैप, कर रहे पासपोर्ट की जांच !

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More