खुले में किया शौच…तो मिलेगी सजा मौत

0 127

गांवों में घर-घर शौचालय बनवाने और खुले में शौच से मुक्त कराने का अभियान जोरों पर है। शायद इसी उत्साह में बागपत नगर पालिका ने शहर में ऐसे होर्डिंग लगवा दिए जिन पर बवाल शुरू हो गया। होर्डिंग में लिखा था, ‘अगर करोगे खुले में शौच, तो जल्द दी जाएगी मौत’।

यह डिजाइनर की ओर से की गई गलती है

पूरे शहर में ऐसे ही होर्डिंग लगा दिए गए। मगर जब इन पर बवाल शुरू हुआ तो नगर पालिका प्रशासन बैकफुट पर आ गया। प्रशासन ने दावा किया कि यह डिजाइनर की ओर से की गई गलती है। हालांकि मंगलवार शाम तक सारे बैनर उतार लिए गए थे।

Also Readअखिलेश से नाराज शिवपाल चाचा ने चला सियासी चाल…

बागपत नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी ललित आर्या ने कहा, ‘पूरे शहर में करीब 45 बैनर और होर्डिंग लगवाए गए थे। उनमें से एक में यह विवादित लाइन लिखी थी। यह एक डिजाइनर की गलती की वजह से हुआ था। हमने उसके खिलाफ जांच के आदेश दे दिए हैं।’

क्या हम सच में एक लोकतांत्रिक देश में रह रहे हैं?

हालांकि लोगों में इसको लेकर काफी गुस्सा है। एक दुकानदार रियाजुद्दीन अहमद ने कहा, ‘क्या हम सच में एक लोकतांत्रिक देश में रह रहे हैं? यह पूरी तरह तानाशाही है। कोई भी किसी को ऐसी धमकी नहीं दे सकता और यहां तो खुद नगर पालिका यह कर रही है और अधिकारी कह रहे हैं कि यह सिर्फ एक भूल है।’

बैनर के साथ छेड़छाड़ की गई है

उधर एक स्थानीय बीजेपी नेता संजय प्रजापति ने कहा, ‘यह मोदी सरकार के खिलाफ एक प्रायोजित कैंपेन है। बैनर के साथ छेड़छाड़ की गई है। इस वक्त बागपत नगर पालिका को गैर बीजेपी पार्षद चला रहे हैं, इसी वजह से ऐसी लापरवाही सामने आई है।’साभार

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More