दिल्ली के कई निजी और सरकारी अस्पताल फिर पूरी तरह कोविड हॉस्पिटल में होंगे तब्दील

0 308

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों पर दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की आपात बैठक हुई। बैठक में सरकारी और निजी अस्पतालों में कोविड बेड बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। वहीं दिल्ली के कई सरकारी और निजी अस्पतालों को फिर से पूरी तरह से कोविड (covid-19) अस्पताल बनाने का निर्णय लिया गया है। साथ ही केंद्र सरकार के अस्पतालों में भी कोविड बेड बढ़ाने के लिए दिल्ली सरकार संपर्क करेगी। मुख्यमंत्री की इस बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, मुख्य सचिव, अपर मुख्य सचिव, मुख्य सचिव (स्वास्थ्य), सचिव (स्वास्थ्य) के अलावा स्वास्थ्य विभाग के सभी वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में सीएम अरविंद केजरीवाल ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से दिल्ली में कोरोना की मौजूदा स्थिति की अपडेट प्राप्त की।

सरकारी और निजी अस्पताल में बढ़ेंगे कोविड बेड

इस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, “हमने सरकारी और निजी अस्पतालों में बेड बढ़ाने के लिए कई कदम उठाने के निर्णय लिए हैं और इसमें सभी से सहयोग की अपील की है। सीएम ने दिल्ली के लोगों से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग कोविड के लिए जारी प्रोटोकाल का पालन करें, बहुत जरूरी होने पर ही अस्पताल जाएं और पात्र लोग वैक्सीन अवश्य लगवाएं।”

अभी अस्पतालों में बेड पर्याप्त है

अधिकारियों ने सरकारी और निजी अस्पतालों में उपलब्ध और मरीजों से भरे बेड की विस्तृत जानकारी दी। सीएम ने कहा कि, “हमें कोरोना के संक्रमण को नियंत्रित करने के साथ ही संक्रमित लोगों को अच्छा से अच्छा इलाज मुहैया कराना है।” अधिकारियों ने बताया कि, “अस्पतालों में कोविड मरीजों के आने की संख्या बढ़ रही है। अभी अस्पतालों में बेड पर्याप्त है, लेकिन मरीजों से बेड भरते जा रहे हैं।”

यह भी  पढ़ें- 904 लोगों की मौत और 1 लाख 68 हजार से ज्यादा मामले, अब टूटे ये रिकॉर्ड

सीएम केजरीवाल ने कहा कि, “कोविड (covid-19) मरीजों को किसी भी हालत में अस्पतालों में बेड की किल्लत नहीं होनी चाहिए। कोरोना की यह चौथी लहर पिछली लहर से अधिक खतरनाक है। वही केंद्र सरकार के भी दिल्ली में कई अस्पताल हैं। पिछली पीक के दौरान केंद्र सरकार के अस्पतालों में कोविड बेड बनाए गए थे।”

सीएम ने केंद्र सरकार के अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के लिए उनसे संपर्क करने के निर्देश दिए। सीएम ने यह स्पष्ट किया कि, अभी तत्काल में दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में उतने बेड बढ़ाए जाएं, जितने पिछले साल नवंबर में थे। उसके बाद यदि उन अस्पतालों में बेड बढ़ाने की गुंजाइश होती है, तो उनसे और बेड बढ़ाने की अपील की जाएगी।

केंद्र सरकार के अस्पतालों में कोविड बेड बढ़ाए जाएं

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि, “पिछले साल नवंबर में आई पिक के दौरान दिल्ली के सरकारी और निजी अस्पतालों में 18 हजार कोविड बेड बनाए गए थे। हम एक बार फिर उसी स्तर की तैयारियां कर रहे हैं।” “हमने केंद्र सरकार से अनुरोध किया है कि केंद्र सरकार के अस्पतालों में कोविड बेड बढ़ाए जाएं। अभी केंद्र सरकार के अस्पतालों में 1,090 कोविड बेड उपलब्ध हैं, जबकि नवंबर में केंद्र सरकार के अस्पतालों में 4 हजार से अधिक कोविड बेड थे। हमने केंद्र सरकार से 4 हजार तक कोविड बेड बढ़ाने के लिए अनुरोध किया है।”

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More