शाहजहांपुर : 12 घंटे के बाद समाप्त हुआ बचाव कार्य, 3 मौत

0 168

शाहजहांपुर जिले में रविवार को एक इंटर कॉलेज की निर्माणाधीन इमारत का लेंटर गिरने से मलबे में दबकर तीन मजदूरों की मौत हो गई। मलबे में कुछ और मजदूरों के दबे होने की आशंका के चलते बचाव अभियान (campaign) चलाया गया। यह अभियान 12 घंटे तक चला और सोमवार सुबह समाप्‍त होग गया।

जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने यहां बताया कि आरसी मिशन थाना क्षेत्र स्थित एक इंटर कॉलेज की बिल्डिंग में लेंटर डाला जा रहा था। इसी दौरान वह अचानक गिर गया, जिसके मलबे में कई मजदूर दब गए। मलबे से तीन मजदूरों के शव बरामद किए गए हैं।

मुकदमा दर्ज कर के ठेकेदार को गिरफ्तार कर लिया गया है

इनमें से दो की पहचान मनोज शर्मा (25) और परमेश्वर (22) के रूप में हुई है। डीएम ने बताया कि 16 मजदूरों को मलबे से सुरक्षित निकाल लिया गया है। सभी घायलों को जिला अस्पताल भेजा गया है। मलबे में मजदूरों के दबे होने की आशंका के चलते एनडीआरएफ एसडीआरएफ और आईटीबीपी की टीमें लगाई गई थीं। फिलहाल तीन लोगों की मौतों के बाद मलबे से किसी का भी कोई शव नहीं मिला है। साथ ही इस मामले में इमारत मालिक, इंजीनियर आर्किटेक्ट और ठेकेदार के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर के ठेकेदार को गिरफ्तार कर लिया गया है।

15 घायल मजदूरों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था

घटना थाना रोजा क्षेत्र के निवासपुर गांव की है। यहां पर प्राइवेट इंटर कॉलेज के हाल के लिए निर्माण कार्य कराया जा रहा था। अभी हाल का लेंटर भरभरा कर गिर पड़ा। जिस वक्त यह लेंटर गिरा उस वक्त लगभग 50 मजदूर काम कर रहे थे। इनमें से 15 घायल मजदूरों को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जबकि इस बात की आशंका व्यक्त की जा रही थी कि मलबे में लगभग 30 मजदूर दबे हुए हैं। इसके बाद लगभग 12 घंटे तक रेस्क्यू अभियान चलाया गया।

हालात को देखते हुए एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और आईटीबीपी की टीमों को बुलाया गया था। इन्‍होंने आठ घंटे के रेस्क्यू के बाद तीन लोगों को बाहर निकाला।

इनमें से दो की मौत हो गई थी। एक मजदूर की इलाज के दौरान मौत हो गई। जिला प्रशासन ने मामले में कड़ी कार्रवाई करते हुए स्कूल के मालिक, इंजीनियर आर्किटेक्ट और ठेकेदार के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने ठेकेदार को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही इस मामले में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं। साभार

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More