लड़की को बार-बार बेहोश कर अपनी हवस की आग बुझा रहे थे वहशी दरिंदे, कभी बेड पर तो कभी कार में…

0 2,057

16 वर्षीय स्कूली छात्रा के अपहरण और सामूहिक रेप का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। आरोपी लड़की को फेसबुक के जरिए जानता था। उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर लड़की का गैंगरेप किया।

आरोपी और पीड़िता की दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई ​थी। दोनों अक्सर फोन पर बात करते थे। आरोपी ने पीड़िता को व्हाट्सएप पर अश्लील संदेश भी भेजे और वीडियो कॉल भी किए। इसके अलावा आरोपी ने पीड़िता की अपने एक रिश्तेदार से भी मुलाकात कराई थी जो इस मामले में आरोपी है।

लॉज में ले जाकर किया रेप-

आरोपी ने लड़की को कस्बे में आने को कहा और एक लॉज में ले जाकर उसके साथ रेप किया। कर्नाटक पुलिस ने कहा कि उसके दोस्त ने भी उसके साथ रेप किया। एक अन्य आरोपी जिसने लॉज की व्यवस्था की और तीनों ने मिलकर लड़की का रेप किया।

इस घटना का पता तब चला, जब छात्रा पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के लिए आगे आई। पीड़िता ने बताया कि शुक्रवार की सुबह करीब 8.15 बजे जब वह बंतवाल कस्बे के बस स्टॉप के पास स्कूल जा रही थी तो आरोपी कार में सवार होकर आए।

सब ने बारी-बारी से किया रेप-

लड़की ने शिकायत में उल्लेख किया है कि बात करते हुए आरोपी ने उसे चॉकलेट दी और जब तक वह चॉकलेट अपने बैग में रखती, तब तक वह बेहोश हो गई। लड़की ने प्रारंभिक जांच में पुलिस को बताया, जब उसे होश आया तो वह बेड पर थी।

आरोपियों ने बारी-बारी से उसके साथ रेप किया। उसने फिर होश खो दिए। जब उसे दोबारा होश आया, तो लड़की ने खुद को कार में पाया। आरोपी ने उसे बंतवाल कस्बे के पास छोड़ दिया और पीड़िता अपनी मां को फोन करके घर पहुंची।

पुलिस ने पोक्सो एक्ट के तहत आरोपियों पर मामला दर्ज कर लिया है। इसमें पुलिस ने 4 लोगों को शनिवार को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में कापू निवासी केएस शरथ शेट्टी, मारुति मंजूनाथ, लॉज सतीश और इदयात उल्ला शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: महिला को बंधक बना 4 लड़कों ने तीन दिन तक किया गैंगरेप, हालत बिगड़ने पर छोड़कर भागे

यह भी पढ़ें: 13 साल के बच्चे का लिंग परिवर्तन कर कई बार किया गैंगरेप, 2 आरोपी गिरफ्तार

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More