ट्विटर ने 46 हजार से ज्यादा भारतीय अकाउंट्स पर लगाया प्रतिबंध, जानें वजह

0 75

मशहूर सोशल मीडिया ऐप ट्विटर ने भारतीय यूजर्स पर बड़ी कार्रवाई की है. दरअसल, गाइडलाइन्स का उल्लंघन करने पर मई, 2022 में भारतीय यूजर्स के 46 हजार से अधिक अकाउंट्स पर प्रतिबंध लगा दिया. इस बात की पुष्टि रविवार को मंथली कंपाइलेंस रिपोर्ट में की है. रिपोर्ट के अनुसार, ट्विटर ने बाल यौन शोषण, नॉन-कॉन्सेंसुअल न्यूडिटी और इसी तरह के कंटेंट के लिए 43,656 अकाउंट्स को बैन किया है, जबकि 2,870 अकाउंट्स को आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए बैन किया है.

ट्विटर प्लेटफॉर्म को 26 अप्रैल, 2022 और 25 मई, 2022 के बीच अपने लोकल ग्रीवांस मैकेनिज्म के माध्यम से भारत में 1,698 शिकायतें मिलीं. इसमें ऑनलाइन अब्यूज़/हैरेसमेंट (1,366), हेटफुल कंडक्ट (111), मिसइफॉर्मेशन और मैनिपुलेटेड मीडिया (36), सेंसिटिव एडल्ट कंटेंट (28), इम्पर्सोनेशन (25) से संबंधित शिकायतें शामिल हैं.

Who was banned from Twitter this year? A list - Verdict

ट्विटर प्लेटफॉर्म ने इस अवधि के दौरान 1,621 यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स लोकेटर (यूआरएल) के खिलाफ भी कार्रवाई की, जिसमें ऑनलाइन उत्पीड़न (1,077), हेटफुल कंडक्ट (362) और सेंसिटिव एडल्ट कंटेंट (154) से संबंधित मानदंडों का उल्लंघन करने वाले यूआरएल शामिल हैं. इसके अलावा, ट्विटर ने 115 शिकायतों पर भी कार्रवाई की, जिसमें अकाउंट सस्पेंशन की अपील की गई थी. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोई अकाउंट सस्पेंशन रद्द नहीं किया गया.

ट्विटर ने रिपोर्ट में कहा ‘हालांकि हम अपने प्लेटफॉर्म पर खुद को व्यक्त करने के लिए हर किसी का स्वागत करते हैं, हम ऐसे व्यवहार को बर्दाश्त नहीं करते हैं जो दूसरों की आवाज को दबाने के लिए परेशान करता है, धमकी देता है, अमानवीय करता है या डर का इस्तेमाल करता है.’

Analysis: A tweet by a breached world leader's account could lead to World  War 3 | Ctech

इस बीच रविवार को मंथली ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट के अनुसार, गूगल इंडिया ने बाल यौन शोषण और हिंसक चरमपंथी कंटेंट जैसी हानिकारक कंटेंट के प्रसार को रोकने के लिए ऑटोमेटेड डिटेक्शन के माध्यम से मई में 393,303 हार्मफुल कंटेंट को हटाया.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More