BJP में शामिल हुए आजम खां के मीडिया प्रभारी, लंबे अर्से बाद अलग हुए फसाहत अली खां, गंभीर आरोप में दर्ज हैं कई केस

0 253

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खां के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां शानू ने सोमवार को बीजेपी में शामिल हो गए हैं. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी के सामने शानू ने अपने समर्थकों के साथ पार्टी में शामिल होने का एलान किया. इसके बाद रामपुर विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी आकाश सक्सेना के कार्यालय में भूपेंद्र सिंह चौधरी ने शानू को बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कराई. ऐसा माना जा रहा है कि उपचुनाव के समय शानू का सपा को छोड़ना आजम खां के लिए बड़ा झटका साबित हो सकता है. बता दें शानू के ऊपर गंभीर आरोप में 30 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं.

Fasahat Ali Khan Sanu BJP

आजम खां और फसाहत अली खां शानू लंबे अर्से से साथ में रहे हैं. जब सपा ने आजम खां को बाहर का रास्ता दिखाया था तब शानू उनके साथ खड़े रहे. शानू ने आजमवादी मंच बनाया, जिसके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी वो थे. वर्ष 2017 में बीजेपी सरकार आने के बाद आजम खां और उनके समर्थकों के खिलाफ धड़ाधड़ मुकदमे दर्ज हुए हैं. इस दौरान शानू पर मुकदमे दर्ज हुए. शानू के खिलाफ लोगों के घर में घुसकर सामान चुराने, उनके घरों पर बुल्डोजर चलवाने, भैंस चोरी करने और भैंस की घंटी चोरी करने के आरोप में मुकदमे दर्ज हैं.

Fasahat Ali Khan Sanu BJP

मुकदमे दर्ज होने के बाद शानू काफी समय तक भूमिगत रहे. इसके बाद पुलिस ने उनको गिरफ्तार करने का दावा किया था. पुलिस ने उनके खेत पर बने फार्म से चोरी की भैंस बरामद करने का भी दावा किया था. पुलिस ने शानू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. शानू जब जेल में थे, उनके पिता का इंतकाल हो गया था, जिसके बाद से शानू टूट गए थे. जेल से बाहर के आने के बाद भी शानू ने आजम खां साथ छोड़ा नहीं था.

Fasahat Ali Khan Sanu BJP

इस बीच पुलिस ने इनके खिलाफ गुंडा एक्ट की कार्रवाई करते दो बार जिला बदर कर दिया था. अभी कुछ दिन पहले ही शानू की जिला बदर की अवधि समाप्त हुई है.

 

Also Read: यूपी में श्रद्धा जैसा हत्याकांड: आफताब की तरह प्रिंस यादव ने किये प्रेमिका के 6 टुकड़े, हत्या में शामिल पूरी फेमिली

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More