PM मोदी ने कैबिनेट बैठक में की तारीफ और चंद घंटे बाद मुख्तार अब्बास नकवी ने दिया इस्तीफा

0 115

केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने देश और लोगों की सेवा में मुख्तार अब्बास नकवी और आरसीपी सिंह के योगदान की सराहना की. पीएम मोदी की तारीफों के बाद ही दोनों मंत्रियों के इस्तीफ़ा देने की अटकलें लगाई जाने लगी थीं. इसके बाद बुधवार को मुख्तार अब्बास नकवी और आरसीपी सिंह ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. दोनों का राज्यसभा कार्यकाल गुरुवार को समाप्त हो रहा है. इससे पहले मुख्तार अब्बास नकवी ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की थी.what will rcp singh do now, हकीकत भांप चुके हैं आरसीपी सिंह, जानिए पूर्व  कैबिनेट मंत्री होने के बाद बिहार में क्‍या करेंगे... - rcp singh has sensed  the reality, know what

बता दें मुख्तार अब्बास नकवी केंद्र सरकार में अल्पसंख्यक कार्य मंत्री थे और राज्यसभा में भाजपा के उपनेता भी थे. हाल ही में हुए राज्यसभा द्विवार्षिक चुनाव में भाजपा ने उन्हें कहीं से उम्मीदवार नहीं बनाया था. तब से ही ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्टी उन्हें एनडीए का उपराष्ट्रपति उम्मीदवार या फिर किसी बड़े राज्य का राज्यपाल बना सकती है.

राज्यसभा की दूसरी लिस्ट में भी केंद्रीय मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी का नाम  नहीं, क्या लड़ेंगे लोकसभा उपचुनाव? - mukhtar abbas naqvi may have to vacate  minister ...

मुख्तार अब्बास नकवी भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रह चुके हैं और वर्तमान में वे भारत सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के कैबिनेट मंत्री हैं. प्रयागराज में जन्मे नकवी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से शिक्षा हासिल की है. पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के समय देश में आपातकाल घोषित होने पर उन्हें जेल में रहना पड़ा था. नकवी कभी इंदिरा गांधी को चुनाव में हराने वाले समाजवादी नेता राजनारायण के करीबी थे और उनके प्रभाव में सोशलिस्ट हुआ करते थे. बाद में वे बीजेपी में शामिल हो गए.

मुख्तार अब्बास नकवी ने साल 1998 में रामपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ा और जीत गए, ये पहली बार हुआ था कि कोई मुस्लिम चेहरा भाजपा के प्रत्याशी के रूप में चुनकर पहली बार संसद पहुंचा था. वे अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री भी रहे. वह स्याह और दंगा नामक दो किताबें भी लिख चुके हैं.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More