बनारस मे बेड को लेकर हाहाकार, स्टेडियम मे बनेगा अस्पताल

आम आदमी कोरोना से अपनी जान बचाने के लिए लाखों कोशिशें कर रहा है. बावजूद इसके बेड की कमी, दवाइयों और ऑक्सीजन की किल्लत ने सबको और परेशान कर रखा है.

0 949

 

बनारस इस समय कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहा है. अस्पतालों मे बेड नहीं मिल रहे है, और शायद ही कोई ऐसा प्रदेश बचा होगा जहां से अव्यवस्था की ख़बरें न आई हो. आम आदमी कोरोना से अपनी जान बचाने के लिए लाखों कोशिशें कर रहा है. बावजूद इसके बेड की कमी, दवाइयों और ऑक्सीजन की किल्लत ने सबको और परेशान कर रखा है.

बनारस मे तैयार होगा अस्थाई अस्पताल

बनारस मे कोरोना की पीक अपने चरम पर है. केसेस की संख्या दिन-ब-दिन बढती जा रही है. हॉस्पिटल मे बेड नहीं है, उपचार के लिए दवाइयां भी मिलना कठिन हो चूका है. आलम ये है कि कई मरीजों ने अपना दम तोड़ा, और कइयो ने आत्मबल भी एकदम खत्म होते चले जा रहे है.

ऐसे मे संक्रमितों के समुचित इलाज के लिए BHU मे एक हज़ार बेड का अस्थाई असपताल तैयार किया जाएगा. अगले दो हफ्ते के अंदर 1 हजार बेड का अस्थाई अस्पताल तैयार किया जायेगा.

DRDO

यह भी पढ़ें : BHU में तैयार होगा इतने बेड का अस्थाई अस्पताल

DRDO तैयार करेगा अस्पताल

जर्मन हैंगर से निर्मित यह अस्पताल 24 घंटे कार्य करते हुए अगले दो हफ्तों में शुरू कर दिया जाएगा. DRDO की मदद से बीएचयू स्टेडियम में एक हज़ार बेड के कोविड हॉस्पिटल का निर्माण किया जायेगा. डीआरडीओ के द्वारा फार्मेसी, आक्सीजन सप्लाई, मर्चरी आदि सभी आवश्यक चीजों की भी व्यवस्था की जायेगी. DRDO लिक्विड ऑक्सीजन का प्लांट भी लगाएगा. जिससे वाराणसी में ऑक्सीजन की क़िल्लत पर भी नियंत्रण पाया जा सकेगा.

BHU मे तैयार होगा अस्थाई अस्पताल

DRDO ने तैयार किए कई अस्पताल

इससे पहले भी जब-जब देश मे कोरोना से हालत बिगड़ी है तब-तब DRDO की मदद से ऐसे अस्पताल तैयार किए जा चुकें है. उदाहरण के लिए लखनऊ मे एक हज़ार बेड का अस्पताल बनाया गया हुआ. ऐसे ही देश के अति प्रभावित प्रदेशों मे जर्मन हेंगर वाली टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके अस्पताल बनाए गए है. कोरोना की दूसरी लहर मे दिल्ली, मुंबई, ओडिशा, लखनऊ, जयपुर, पुणे, आदि शहरों मे बनाए जा चुके है अस्थाई अस्पताल.

यह भी पढ़ें : लॉकडाउन को लेकर योगी सरकार और हाई कोर्ट आमने-सामने?

उत्तर प्रदेश मे कोरोना का हाल

कोरोना की वजह से प्रदेश मे लॉकडाउन जैसी स्थिति बन चुकी है. केसेस की बढ़त को देखते हुए UP मे वीकेंड लॉकडाउन लगाने का आदेश प्रदेश सरकार ने पारित किया है. प्रदेश मे लगातार केसेस बढ़ रहे. सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ खुद कोरोना की चपेट मे आ चुके है. पिछले 24 घंटे मे उत्तर प्रदेश मे 28 हज़ार नए मामलें सामने आए है.

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More