यूपी में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, लखनऊ में सबसे ज्यादा 4 हजार 444 मामले

0 321

कोरोना वायरस के मामलों में तेजी बनी हुई है. आज 1 लाख 52 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. ये एक दिन में अब तक सबसे बड़ा आंकड़ा है. 24 घंटे में 839 मौतें हुई हैं. इसी के चलते कई जगह कई प्रकार की पाबंदियां लागू हैं. वहीं उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में 15 हजार 353 सक्रिय केस दर्ज किए गए हैं. जबकि राजधानी लखनऊ में 4 हजार 444 मामले आए हैं. अस्पतालों में लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं. लोगों को बेड नहीं मिल रहे हैं और लोग इलाज के अभाव में दम तोड़ तोड़ रहे हैं.

कोरोना ने ली 48 लोगों की जान

राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को पिछले 24 घंटों में लोगों के कोविड-19 से संक्रमित होने के 10,732 नए मामले दर्ज किए गए, जो पिछले साल की शुरुआत में महामारी फलने के बाद से एक दिन का सबसे ज्यादा आंकड़ा है। रूप बदलकर फैल रहे वायरस ने और 48 लोगों की जान ले ली।

दिल्ली में शनिवार को 7,897, जबकि शुक्रवार को 8,521 नए मामले सामने आए थे। हालांकि शनिवार को जांचे गए नमूनों की संख्या भी कम रही। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार, दैनिक संक्रमण दर 9.43 प्रतिशत बताई गई, जबकि ठीक होने वालों की संख्या 5,158 रही।

नए मामलों के साथ, दिल्ली की कोविड की चपेट में आए लोगों की संख्या 7,25,197 तक पहुंच गई, जिनमें से 6,79,573 रोगी ठीक हो चुके हैं। सक्रिय मामलों की संख्या 34,341 है, जिनमें से 17,093 होम आइसोलेशन में हैं, जबकि टोल बढ़कर 11,283 हो गया है।

पिछले 24 घंटों में 1,14,288 नमूनों की जांच की गई। 76,954 आरटी-पीसीआर टेस्ट और 76,954 रैपिड एंटीजन टेस्ट किए गए। रविवार को शहर में कुल 1,04,862 लोगों को टीका लगाया गया, जिनमें से 91,099 ने पहली खुराक ली और 13,763 लोग दूसरी खुराक भी ले चुके हैं।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को संवाददाताओं के सामने कहा कि कोरोना की चौथी लहर ‘ज्यादा खतरनाक’ है और लोगों से अपील की कि वे जितना हो सके, घर पर ही रहें। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोनावायरस की श्रृंखला को तोड़ने के लिए हर संभव कदम उठा रही है, लेकिन वह अकेले ऐसा नहीं कर सकती।

यह भी पढ़ें- टीम 11 के साथ बैठक के बाद बोले सीएम योगी- 100 केस मिलने पर लगाएं नाइट कर्फ्यू

उन्होंने कहा, दिल्ली के लोगों ने पिछले एक साल में कोविड-19 की तीन लहरों के खिलाफ लड़ाई लड़ी है, लेकिन यह चौथा ज्यादा कट्रिकल है। मैं लोगों से अनुरोध करूंगा कि वे अपने घरों से तभी बाहर आएं जब बहुत जरूरी हो। अन्यथा कुछ दिनों तक घर पर ही रहें। इससे हमें अपनी चेन तोड़ने में मदद मिलेगी ।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More