राहुल की ‘ना’ के बाद सोनिया गांधी होंगी कांग्रेस प्रेसिडेंट और सचिन पायलट बनेंगे कार्यवाहक अध्यक्ष!

0 77

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया अगले कुछ दिनों में पूरी होने का अनुमान है. जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस में राष्ट्रीय अध्यक्ष की सूची से राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा का नाम फिलहाल बाहर बताया जा रहा है. अब अनुमान है कि सोनिया गांधी को अगले पांच साल के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जा सकता है.

वहीं, राज्य में बनाई गई कांग्रेस कमेटी की तर्ज पर केंद्र में भी कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्षों की जिम्मेदारी दी जाएगी. चर्चा है कि कांग्रेस के युवा नेता सचिन पायलट कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष होंगे. हालांकि, पार्टी की ओर से अभी तक इस पर कोई अधिकारी बयान नहीं जारी हुआ है. लेकिन, जानकारों के मुताबिक सितंबर के दूसरे सप्ताह तक कांग्रेस की कार्यकारिणी और राष्ट्रीय अध्यक्ष तय हो जाएगा.

बता दें राहुल गांधी ने स्पष्ट रूप से कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने से इंकार कर दिया है. ऐसे में नए राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर कई अन्य चेहरों पर चर्चा हुई है. सूत्रों का कहना है कि एक बार फिर से गांधी परिवार के ही सदस्य प्रियंका गांधी वाड्रा के नाम की चर्चा हुई, लेकिन वहां पर भी बात नहीं बनी. कांग्रेस से जुड़े वरिष्ठ नेता चाहते हैं कि अगर सर्वसम्मति रहती है तो सोनिया गांधी को अगले पांच साल के लिए एक बार फिर से राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जा सकता है. सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस पार्टी इस बार दो कार्यवाहक अध्यक्ष बनाने की तैयारी कर रही है. इसे लेकर कांग्रेस के कई वरिष्ठ पदाधिकारियों की बैठक भी हो चुकी है.

कांग्रेस से जुड़े एक वरिष्ठ नेता के अनुसार, इस बार नई व्यवस्था के तहत फिलहाल तो यही हो रहा है कि दो कार्यवाहक अध्यक्ष भी राष्ट्रीय स्तर पर बनाए जाएं. अभी दो राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष के मसौदे पर चर्चा का ही दौर चल रहा है. इसलिए यह कहना मुश्किल होगा कि इस पर पूरी तरीके से सहमति बन चुकी है. लेकिन यह तय है कि इस तरीके की नई व्यवस्था के बारे में पार्टी आलाकमान और वरिष्ठ पदाधिकारियों के बीच में चर्चाएं तो हुई ही हैं.

कांग्रेस से जुड़े वरिष्ठ सूत्रों का कहना है कि नई व्यवस्था पर ज्यादातर नेताओं की आम सहमति बन रही है. इसकी प्रमुख वजह यही है कि पूर्णकालिक राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर सोनिया गांधी को एक बार फिर से जिम्मेदारी दिए जाने पर ज्यादातर लोग सहमत हैं. क्योंकि सोनिया गांधी अस्वस्थ रहती हैं इसलिए उनके पूर्णकालिक अध्यक्ष होने पर दो कार्यवाहक अध्यक्ष की नियुक्ति की चर्चा पर ज्यादातर लोग सहमत हो रहे हैं.

कांग्रेस से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, दो कार्यवाहक अध्यक्ष की सूची में एक उत्तर भारत से तथा दूसरा कार्यवाहक अध्यक्ष दक्षिण भारत से लिए जाने की चर्चा चल रही है. सूत्रों का कहना है कि उत्तर भारत से जिस नेता का नाम कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर चल रहा है उसमें पहला नाम सचिन पायलट का है. क्योंकि सचिन पायलट को लेकर बीते कुछ दिनों से कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने उन्हें न सिर्फ आगे बड़ी जिम्मेदारी देने का आश्वासन दिया है, बल्कि खुले मंच से एक बार तो राहुल गांधी ने भी उनके धैर्य की परीक्षा की तारीफ की थी.

ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि सचिन पायलट मजबूत दावेदार कार्यवाहक अध्यक्ष के तौर पर उभरे हैं. हालांकि, दूसरे नाम के तौर पर राजस्थान के वर्तमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के अलावा मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और उत्तर प्रदेश के एक वरिष्ठ नेता का नाम भी सामने आया है. जबकि दक्षिण भारत से कार्यवाहक अध्यक्ष के तौर पर मलिकार्जुन खड़गे और केरल के प्रदेश अध्यक्ष के सुधाकरण समेत केरल के दो अन्य वरिष्ठ नेताओं का नाम की चल रहा है.

 

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More