कॉमनवेल्थ गेम्स 2022: संकेत सरगर ने दिलाया भारत को पहला सिल्वर मेडल, कहा- ‘स्वतंत्रता सेनानियों को समर्पित है यह पदक’

0 59

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में बर्मिंघम में संकेत महादेव सरगर ने भारत को पहला सिल्वर मेडल दिला दिया है. शनिवार यानि 30 जुलाई को वेटलिफ्टिंग के 55 किग्रा भारवर्ग में संकेत ने ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए स्नैच में 113 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 135 किग्रा भार उठाया. क्लीन एंड जर्क के दूसरे राउंड में चोटिल होने के बावजूद सरगर ने गोल्ड के लिए प्रयास किया, लेकिन वह सफल नहीं हो सके. इस तरह कुल 248 किग्रा भार उठाकर महाराष्ट्र के इस खिलाड़ी ने सिल्वर मेडल जीत लिया. संकेत ने अंक तालिका में भारत का खाता खोला.

सिल्वर मेडल जीतने के बाद संकेत ने कहा

‘हम आजादी का अमृतमहोत्सव मना रहे हैं. यह पदक आजादी दिलाने वाले स्वतंत्रता सेनानियों को समर्पित करता हूं.’

महाराष्ट्र के सांगली के रहने वाली 21 वर्षीय वेटलिफ्टर संकेत महादेव सरगर स्वभाव से काफी शर्मीले हैं और मुकाबलों के दौरान अपनी टीम के सपोर्ट स्टाफ के अलावा किसी से बात नहीं करते हैं. संकेत अपने पिता की पान की और खाने की दुकान में मदद करते हैं. वह, अपने पिता को अब आराम करते हुए देखना चाहते हैं.

संकेत ने साल 2022 की फरवरी में सिंगापुर वेटलिफ्टिंग इंटरनेशनल में 256 किग्रा (स्नैच में 113 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 143 किग्रा) उठाकर कॉमनवेल्थ और राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया था. संकेत अब पेरिस ओलंपिक में गोल्ड जीतना चाहते हैं.

हाल ही में संकेत ने कहा था

‘अगर वह अगर मैं स्वर्ण जीत लेता हूं तो अपने पिता की मदद करूंगा. उन्होंने मेरे लिए काफी दुख उठाए हैं. मैं उन्हें अब खुशियां देना चाहता हूं.’

साल 2020 के अक्टूबर में संकेत सरगर ने एनआईएस पटियाला में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना गया था. वह कोल्हापुर के शिवाजी विश्वविद्यालय में इतिहास के छात्र हैं. संकेत ने खेलों इंडिया यूथ गेम्स 2020 और खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2020 में गोल्ड मेडल जीता था.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More