लखनऊ और वाराणसी में धमकी भरे कॉल से मची खलबली, हिरासत में सब्जीवाला

0 276

यूपी की राजधानी लखनऊ में उस समय खलबली मच गई जब एक अज्ञात कॉल से वाराणसी जिला अदालत को बम से उड़ाने की धमकी दी गई. ये धमकी भरा कॉल राजधानी लखनऊ के 5 कालीदास मार्ग पर स्थित सीएम आवास पर आधी रात को आया था. इस धमकी भरे कॉल को ड्यूटी स्टाफ ने रिसीव किया था. इसके बाद ड्यूटी स्टाफ ने सीनियर अधिकारियों को इस मामले की जानकारी दी और फिर साइबर टीम एक्टिव हो गई. उधर, लखनऊ पुलिस ने वाराणसी पुलिस से इस मामले में साझेदारी की, जिसके बाद वाराणसी कोर्ट की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

Threat calls Lucknow Varanasi
Threat calls Lucknow Varanasi

दरअसल, पहला कॉल लखनऊ में सीएम आवास पर आया और दूसरा कॉल वाराणसी के एसपी ग्रामीण को आया. इन दोनों कॉल्स पर जो धमकियां दी गईं वो वाराणसी जिला अदालत परिसर को बम से उड़ाने की दी गई, जिसमें ज्ञानवापी केस की सुनवाई चल रही है. जानकारी के मुताबिक, सीएम आवास पर वाराणसी के फुलवरिया से फोन किया गया था. धमकी देने वाले से ड्यूटी स्टाफ ने पूछा कहां से बोल रहे हो? तो कॉलर ने तुरंत कॉल काट दिया. जब पुलिस ने मोबाइल नंबर ट्रेस किया तो यह वाराणसी के ही एक सब्जी विक्रेता का पाया गया. इस दौरान वाराणसी पुलिस ने उस सब्जी विक्रेता को हिरासत में लिया.

उधर, हिरासत में लिए गए सब्जी विक्रेता ने कहा उसका मोबाइल चोरी हो चुका है और यह कॉल किसने की उसको नहीं पता है. पोलिसे ने बताया कि जिस नंबर से धमकी भरी कॉल आई है वो नंबर सब्जी विक्रेता की बेटी के नाम पर रजिस्टर है. वहीं, एसपी ग्रामीण को जिस नंबर से कॉल आया था, उसका पता नहीं चल पाया है. कॉल करने वाला आरोपी अभी पकड़ से बाहर है.

बता दें वाराणसी जिला अदालत ने ज्ञानवापी मामले पर अपना फैसला सुरक्षित रखा है. अब 8 अक्टूबर को फैसला सुनाया जाना है.

Also Read: डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक बोले- बेहतर इलाज से बढ़ रहा मरीजों का भरोसा

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More