रूस-यूक्रेन युद्ध: राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की चेतावनी, बोले- देश की रक्षा के लिए कुछ भी करने को तैयार, 3 लाख रिजर्व सैनिकों को बुलाया

0 234

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध के दौरान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का आक्रामक अंदाज फि से देखने को मिला. उन्होंने रूस में सेना के मोबिलाइजेशन का आदेश दिया है. साथ ही, पश्चिमी देशों को चेतावनी देते हुए पुतिन ने कहा कि हमारी बात को हल्के में न लें. हम रूस की रक्षा के लिए कुछ भी करने के लिए तैयार हैं. पुतिन ने फिलहाल 3 लाख रिजर्व सैनिकों के मूवमेंट का आदेश दिया है. बुधवार को व्लादिमीर पुतिन ने टीवी पर प्रसारित भाषण में यह बात कही.

इससे पहले मंगलवार को ही खबर आई थी कि यूक्रेन के पूर्वी और दक्षिणी हिस्से में रूस रेफरेंडम की तैयारी कर रहा है. रूस की इस तैयारी का पश्चिमी देशों ने विरोध किया था और कहा था कि ऐसा करने से तनाव बढ़ेगा. दरअसल, रूस ने 4 क्षेत्रों को मिलाने की योजना बनाई है और उसके तहत रेफरेंडम का प्लान बनाया है. शुक्रवार से लुहान्सक, खेरसन और डोनेत्स्क समेत 4 प्रांतों में रेफरेंडम की शुरुआत होनी है.

ऐसा कहा जा रहा है कि रूस के इशारे पर यह रेफरेंडम हो रहा है और उसके बाद इन प्रांतों को कब्जाने की ओर से रूस कदम बढ़ा सकता है. इस बीच पुतिन ने पश्चिमी देशों पर आरोप लगाया कि वह न्यूक्लियर ब्लैकमेल कर रहा है. पुतिन ने कहा कि नाटो देशों के नेताओं ने जिस तरह से न्यूक्लियर ब्लैकमेलिंग करने वाले बयान दिए हैं, उससे पता चलता है कि वे रूस के खिलाफ परमाणु हथियारों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

व्लादिमीर पुतिन ने पश्चिमी देशों को चेतावनी देते हुए कहा

‘जो लोग रूस के खिलाफ इस तरह के बयानों को बढ़ावा दे रहे हैं, उन्हें यह याद रखना चाहिए कि रूस के पास भी नाटो देशों से निपटने के लिए सभी जरूरी चीजें मौजूद हैं. हमारे देश की एकता और अखंडता पर जब भी कोई खतरा पैदा होगा तो फिर हम अपनी पूरी शक्ति का इस्तेमाल करेंगे.’

रूसी समाचार एजेंसी आरटी ने पुतिन के हवाले से कहा है कि पश्चिमी देश रूस को तोड़ने-नष्ट करने का आह्वान कर रहे हैं, लेकिन हमवतन का भविष्य सुरक्षित करने के लिए यह कदम उठा रहे हैं. विशेष सैन्य अभियान ‘यूक्रेन जंग‘ का हमारा लक्ष्य अपरिवर्तित है. पुतिन ने कहा कि यूक्रेन के लुहांस्क पीपुल्स रिपब्लिक को मुक्त करा लिया गया है और डोनेत्स्क पीपुल्स रिपब्लिक डीपीआर को भी आंशिक रूप से मुक्त करा लिया गया है.

रूस के रक्षा मंत्री ने कहा कि देश में 3 लाख रिजर्व सैनिकों को तैनात किया जाएगा.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More