लखीमपुर कांड: मुख्य आरोपी छोटू, जुनैद, सुहेल समेत 6 अरेस्ट, रेप के बाद की गई थी दोनों नाबालिग बहनों की हत्या, पेड़ पर लटके मिले थे शव, पेड़ पर लटके मिले थे शव

0 267

यूपी के लखीमपुर खीरी में निघासन थाना इलाके के तमोलीन पुरवा गांव से बीते बुधवार की दोपहर 2 सगी नाबालिग बहनों का अपहरण हुआ था, जिसके कुछ देर बाद नजदीकी गन्ने के खेत में लगे एक पेड़ से दोनों के मृत शरीर लटके मिले थे.

2 बहनों की हत्या मामले में गुरुवार को पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर नया खुलासा किया है. पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि रेप के बाद घटना को कुल 6 लोगों ने अंजाम दिया. नामजद छोटू सहित 6 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं. आरोपियों की पहचान छोटू, सुहेल, जुनैद, हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन और आरिफ के रूप में हुई है.

पुलिस ने एक अभियुक्त जुनैद को झंडी चौकी क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है, जुनैद के पैर में गोली लगी है. दोनों लड़कियों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. पुलिस ने पॉक्सो और संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है. जानकारी के मुताबिक पुलिस ने चारों आरोपियों को हिरासत में लिया है.

एसपी के मुताबिक, आरोपी लड़कियों को बहला-फुसला खेत में ले गए थे. सभी आरोपी आपस में दोस्त हैं. मुख्य आरोपी छोटू मौके पर मौजूद नहीं था. सुहेल और जुनैद ने पूछताछ में रेप की बात कबूल की है. मुख्य साजिशकर्ता गांव के छोटू ने ही किशोरियों से इनकी दोस्ती कराई थी. लेकिन, बुधवार को आरोपी बहला फुसलाकर दोनों लड़कियों को खेत में ले गए और वहां रेप किया. पोस्टमार्टम परिवार वालों की मौजूदगी में कराया जा रहा है, जिसकी वीडियोग्राफी भी कराई जा रही है. कल ऐसी बात सामने आई थी कि पुलिस ने जबरन पोस्टमार्टम कराया, जोकि गलत है. आरोपियों के कपड़े का और उनका डीएनए टेस्ट भी कराया जा रहा है.

निघासन थाना इलाके के एक गांव में बुधवार शाम करीब 06:00 बजे अनुसूचित जाति की दो सगी नाबालिग बहनों के शव पेड़ से लटके मिले थे. उनकी उम्र 15 साल और 17 साल थी. मां का कहना है कि शाम करीब 05:00 बजे उनके सामने ही एक पड़ोसी और 3 अन्य लोग दोनों बेटियों को अगवा कर ले गए थे. घटना से गुस्साए परिजनों ने ग्रामीणों के साथ सदर चौराहे पर जाम लगा दिया. मामले में देर शाम आईजी लक्ष्मी सिंह ने आरोपियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब जाकर जाम समाप्त हुआ. आशंका जताई जा रही था कि 3 आरोपी दूसरे समुदाय के हैं.

मां के मुताबिक, दोनों नाबालिग बेटियां घर के बाहर लगी मशीन पर चारा काटने गईं थीं. शाम करीब 05:00 बजे पड़ोसी गांव के 3 युवक बाइक पर सवार होकर आए और दोनों को जबरन बाइक पर बैठाकर भागने लगे. मां ने शोर मचाते हुए बाइक सवारों का पीछा किया, लेकिन वे उन्हें धक्का देकर भाग निकले. शोर सुनकर गांव वाले भी इकट्ठा हो गए और आरोपियों की तलाश शुरू की. करीब एक घंटे बाद गांव के ही एक व्यक्ति के खेत में उनका शव खैर के पेड़ से लटका मिला.

एफआईआर में घर में घुसकर मारपीट, दुष्कर्म, हत्या और पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है. बताया जा रहा है कि मामले में आरोपियों पर अपहरण की धारा नहीं लगाई गई है.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More