बड़ा खुलासा: दिल्ली पुलिस ने बताया फौजी है सिद्धू मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड

0 46

पिछले 29 मई, 2022 को मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला पर दिनदहाड़े ताबतोड़ गोलियां बरसाकर उनकी हत्या कर दी गई थी. सिद्धू को जान से मारने की साजिश गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बरार ने रची थी. इस मामले में गिरफ्तार शाहरुख नाम के आरोपी ने पुलिस पूछताछ में गैंगस्टर गोल्डी बरार और लॉरेंस बिश्नोई का नाम लिया था. हालांकि, इस मामले में दिल्ली पुलिस एक बड़ा खुलासा किया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, प्रियव्रत उर्फ फौजी ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड है और इसी ने हत्या की साजिश एवं पूरी प्लानिंग की थी.

गैंगस्टर प्रियव्रत फौजी पर कसा शिकंजा, पुलिस ने रखा 25 हजार का ईनाम

 

दिल्ली पुलिस ने बताया कि प्रियव्रत लगातार गोल्डी बरार के संपर्क में था और हत्या से पहले फतेहगढ़ के एक पेट्रोल पंप के सीसीटीवी में नज़र आ रहा था. ये भी शूटर है, जिसने किलिंग की थी. इसके अलावा दिल्ली पुलिस ने सिद्धू मूसेवाला को गोली मारने वाले 2 शूटर गुजरात मुद्रा पोर्ट से गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि दोनों शूटर्स से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए गए है. इनमें से एक शूटर की पहचान प्रियव्रत फौजी के रूप में हुई है. प्रियव्रत उर्फ फौजी सोनीपत हरियाणा का रहने वाला है.

पंजाब पुलिस ने अभी तक इस मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया है. जबकि गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नाई को दिल्ली से पूछताछ के लिए पंजाब लाया गया है. उसका कल पुलिस रिमांड खत्म हो जाएगा और उसे दोबारा मानसा कोर्ट में पेश किया जाएगा.

Sidhu Moosewala हत्या मामला : Police को मिली बड़ी सफलता, 8 हमलावरों की हुई  पहचान - Dainik Savera

पुलिस के मुताबिक…

– उर्फ फौजी ही सिद्दू मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड था. इसी ने हत्या की साजिश, और पूरी प्लानिंग की थी. प्रियव्रत गोलडी बरार के संपर्क में था. और हत्या से पहले फतेहगढ के एक पेट्रोल पंप के सीसीटीवी में नज़र आ रहा था. ये भी शूटर है जिसने किलिंग की थी.

– कशिश उर्फ कुलदीप झज्जर का रहने वाला है. ये भी सिद्धू मुसेवाला की हत्या में शामिल था. ये उन शूटर्स में शामिल था. कशिश भी फतेहगढ की सीसीटीवी में नज़र आ रहा था.

– केशव कुमार… इसने हत्या के बाद सभी शूटर्स को भागने में मदद की थी. इसने सभी को ऑल्टो गाड़ी में भगाने में मदद की थी.

बता दें लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बरार के इशारे पर सिद्धू मूसेवाला पर दिनदहाड़े 30 राउंड फायरिंग की गई थी. दिल्ली की तिहाड़ जेल में इसकी साजिश रची गई थी. लॉरेंस बिश्नोई गैंग की तरफ से लगातार सिद्धू को धमकियां मिल रही थीं.

 

 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More