तिरंगा रैली में बगैर हेलमेट निकले मनोज तिवारी को दिल्ली पुलिस ने थमाया चालान, बाइक के कागजात नहीं थे पूरे

0 41

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बीते बुधवार को तिरंगा रैली का आयोजन किया गया था. इस रैली में भाजपा के कई केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेताओं ने शिरकत की और हिस्सा लिया था. इसी कड़ी में हाथ में तिरंगा लिए दिल्ली से भाजपा सांसद मनोज तिवारी बगैर हेलमेट बुलेट पर सवार होकर निकले थे. लोगों ने मनोज को लेकर ट्रैफिक रूल्स तोड़ने की शिकायत करने लगे. इस बीच दिल्ली पुलिस ने उन्हें 41 हजार रुपए का चालान थमा दिया. जिसमें, मनोज तिवारी को 21 हजार रुपए का चालान और वाहन मालिक को 20 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया है. बाइक के कागजात भी पूरे नहीं थे.

दरअसल, दिल्ली में भाजपा के सांसदों ने तिरंगा बाइक रैली निकाली थी, जिसमें मनोज तिवारी एक लाल रंग की बुलेट पर सवार, सिर पर भगवा गमछा लपेटे थे. उनकी फोटोज और वीडियोज जैसे ही टीवी चैनलों पर दिखीं तो बड़ी संख्या में लोगों ने ट्रैफिक पुलिस से शिकायत शुरू की.

इस दौरान फोटोज ट्वीट कर लोगों ने ट्रैफिक पुलिस से तीखे सवाल पूछने शुरू कर दिए. लोगों ने पूछा कि क्या सांसद के लिए कानून अलग है? आम जनता का तुरंत चालान काटने वाली पुलिस उनपर कब ऐक्शन लेगी? हाथ में तिरंगा लेकर कानून कुचल रहे हैं?

हालांकि, मनोज तिवारी ने ट्वीट करते हुए अपनी गलती को स्वीकार किया और बाइक का नंबर दिखाते हुए कहा कि वह चालान भरने को तैयार हैं.

उधर, दिल्ली पुलिस की प्रवक्ता सुमन नलवा ने बताया कि चालक (मनोज तिवारी) पर हेलमेट नहीं पहनने, लाइसेंस नहीं रखने, पलूशन अंडर कंट्रोल सर्टिफिकेट, और बिना हाई सिक्यॉरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट वाले बाइक चलाने की वजह से 21 हजार रुपए का चालान किया गया है. वहीं, बुलेट के मालिक पर भी पीयूसी सर्टिफिकेट, एचएसआरपी से जुड़े नियमों की अनदेखी की वजह से 20 हजार रुपए फाइन लगाया गया है.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More