सीएम योगी का आदेश, पंचायत चुनावों में लगे कार्मिकों को मास्क, ग्लब्स और सैनिटाइजेशन की पर्याप्त सुविधाएं

0 262

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (cm yogi) की सरकार ने कोरोना की दूसरी लहर से जनता को बचाने के लिये गुरुवार को कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए गठित टीम-11 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कई महत्वपूर्ण निर्देश दिये हैं। जिसमें कोविड संक्रमण से बचाव को देखते हुए कक्षा एक से 12वीं तक के सभी विद्यालयों में 15 मई तक पठन-पाठन स्थगित कर दिया गया है। उन्होंने यह भी कहा है कि इस अवधि में कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी। माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं को भी उन्होंने 20 मई के बाद आयोजित किये जाने के लिये कहा है। उन्होंने कहा है कि विद्यालयों में नई समय-सारिणी के लिए मई के पहले सप्ताह में विचार किया जाएगा।

आला अधिकारियों को पूर्ण संसाधनों से जनता में सेवा में जुटने के निर्देश

उन्होंने अधिकारियों से कोरोना की जंग को जीतने के लिये हर उस संभव प्रयास को करने के निर्देश दिये हैं जो सरकारी संसाधनों से किये जा सकते हैं। उन्होंने अधिकारियों को इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर 24×7 सक्रिय रहने। एम्बुलेंसों की गतिविधियों को इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से जोड़ने। प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारियों से प्रतिदिन इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में बैठक कर परिस्थितियों के अनुरूप रणनीति तय करने के भी निर्देश जारी किये हैं।

2000 से अधिक एक्टिक केस वाले जनपदों में कड़ाई से लागू कराएं कोरोना कर्फ्यू

योगी (cm yogi) सरकार ने लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मेरठ, गोरखपुर सहित 2000 से अधिक एक्टिव केस वाले सभी 10 जनपदों में रात्रि 08 बजे से प्रातः 07 बजे तक कोरोना कर्फ्यू प्रभावी किया जाने पर जोर दिया है। इस आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू करने कहा है। लोगों को मास्क और सैनिटातइजेशन के महत्व को समझाने। जरूरत पड़ने पर आवश्यक कार्रवाई के भी निर्देश जारी किये हैं।

पंचायत चुनावों में लगे कार्मिकों के बचाव का विशेष ध्यान रखा जाए

मुख्यमंत्री (cm yogi) ने निर्देश दिेये हैं कि पंचायत चुनावों में लगे कार्मिकों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाए और सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं। कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से अनुपालन हो इसपर नजर रखी जाए। मतदान कर्मियों के लिए मास्क, ग्लब्स, सैनिटाइजेशन आदि की पर्याप्त व्यवस्था की जानी चाहिए।

पब्लिक एड्रेस सिस्टम के व्यापक स्तर पर उपयोग को प्रभावी बनाया जाए

अधिकारियों को निर्देश जारी करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (cm yogi) ने कहा है कि कोविड-19 से बचाव के बारे में लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाए। इस कार्य में पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक स्तर पर उपयोग करते हुए आमजन को सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने तथा मास्क का अनिवार्य उपयोग करने की जानकारी दी जाए। इस संबंध में प्रवर्तन की प्रभावी कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें- सीएम योगी की सेहत को लेकर एसजीपीजीआई अलर्ट, रिजर्व किया गया बेड

आरटीपीसीआर टेस्ट की संख्या बढ़ाई जाने पर मुख्यमंत्री का जोर

मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव के लिये टेस्टिंग कार्य को पूरी क्षमता के साथ संचालित किये जाने। प्रदेश स्थित केन्द्रीय संस्थानों की प्रयोगशालाओं में उपलब्ध आरटीपीसीआर क्षमता का उपयोग करते हुए आरटीपीसीआर टेस्ट की संख्या बढ़ाए जाने के भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि इन संस्थानों की आवश्यकताओं के अनुरूप मैनपावर का भी प्रबन्ध किया जाए। कोविड जांच के लिए ट्रूनेट मशीनों का उपयोग करना उपयोगी होगा।

होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों से नियमित संवाद किया जाए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों से नियमित संवाद बनाकर उनके स्वास्थ्य की स्थिति की जानकारी प्राप्त की जाए और आवश्यकतानुसार उनका मार्गदर्शन किया जाए। इस कार्य में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन-‘1076’ का भी उपयोग किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि लखनऊ सहित समस्त जनपदों में होम आइसोलेशन के कोविड मरीजों को सभी निर्धारित दवाओं के मेडिकल किट की सुचारु आपूर्ति होती रहे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More