Agnipath Scheme: मायावती ने किया ‘अग्निपथ’ का विरोध, कहा- नोटबंदी जैसी है योजना

0 67

केंद्र सरकार ने अग्निपथ योजना का ऐलान 14 जून, 2022 को किया था. जिसके बाद से देश के कई राज्यों में बड़ी तादाद में युवा हंगामा और बवाल कर रहे हैं. बवाल का सबसे ज्यादा और बुरा असर बिहार में देखने को मिल रहा है. इन सबके बीच बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमों मायावती ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर के माध्यम से भाजपा पर हमला बोला है और अग्निपथ योजना पर विरोध जताया है. बता दें बीते रविवार को कांग्रेस ने अग्निपथ योजना के विरोध में दिल्ली के जंतर मंतर में सत्याग्रह किया था.

अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर मायावती ने लगातार दो ट्वीट किये. अपने पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा ‘केन्द्र की अग्निपथ नई सैन्य भर्ती स्कीम देश की सुरक्षा व फौजी के आत्म-सम्मान व स्वाभिमान से जुडी होने के बावजूद भाजपा नेतागण जिस प्रकार से अनाप-शनाप व अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं वह घोर अनुचित. जनता में भ्रम व सेना के लिए मुश्किलें पैदा करने वाली संकीर्ण राजनीति तुरन्त बंद हों.’

आगे अपने दूसरे ट्वीट में मायावती ने लिखा ‘देश को अचंभित करने वाली नई ’अग्निपथ’ सैन्य भर्ती योजना, सरकार द्वारा नोटबन्दी व तालाबन्दी आदि की तरह ही, अचानक व काफी आपाधापी में थोपी जा रही है, जिससे प्रभावित होने वाले करोड़ों युवा व उनके परिवार वालों में खासा आक्रोश है. सरकार इनके प्रति भी अहंकारी रवैये से बचे.’

इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट के जरिये पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला था. उन्होंने ‘लिखा कि बार-बार नौकरी की झूठी उम्मीद देकर, प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं को बेरोजगारी के ‘अग्निपथ’ पर चलने के लिए मजबूर किया है. 8 सालों में, 16 करोड़ नौकरियां देनी थीं मगर युवाओं को मिला सिर्फ पकोड़े तलने का ज्ञान. देश की इस हालत के जिम्मेदार केवल प्रधानमंत्री मोदी हैं.’

गौरतलब है कि अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर सरकारी संपत्तियों में तोड़फोड़ की जा रही है. अब तक 15 राज्यों से इस तरह की घटनाओं की खबर आ चुकी हैं. दो लोगों की मौत भी हो चुकी है. इसमें एक प्रदर्शनकारी युवक बताया जा रहा है.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More