माफिया उसे सड़क पर दौड़ाते रहे और…

0 219

राजधानी दिल्ली एक बार फिर शर्मशार हुई है। मामला दिल्ली के नरेला इलाके का है। यहां अवैध शराब बिक्री के खिलाफ मुहिम चला रही एक महिला के कपड़े फाड़ कर उसे नंगा किया गया और फिर सरेराह डेढ़ किलोमीटर तक घुमाया गया। इस मामले में दिल्ली महिला आयोग ने डीसीपी को समन भेजा है। महिला के आरोपों के मुताबिक उसके साथ मारपीट की गई और उसे निर्वस्त्र करके घुमाया गया।

Also Read: राहुल ने कहा , ‘उद्योगपतियों के लिए मोदी ने ली GST की मदद

पड़िता से मुलाकात करेंगे केजरीवाल
डीसीपी रजनीश गुप्ता के मुताबिक, पीड़ित महिला अपने परिवार के साथ नरेला इलाके में रहती है। महिला नशा मुक्ति के लिए काम करती है। उन्होंने इलाके में घरों में अवैध शराब बेचने वाले लोगों की शिकायत महिला आयोग से की थी। इसके बाद महिला आयोग की अध्यक्ष ने पुलिस टीम के साथ छापेमारी कर बड़ी मात्रा में शराब बरामद की। फिलहाल, पीड़ित महिला दिल्ली के हॉस्पिटल में भर्ती है। आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उसका हालचाल लेने के लिए हॉस्पिटल जाएंगे।

 Also Read:  25 दिसंबर को मिलेंगे कुलभूषण जाधव अपनी मां और पत्नी से…

अवैध शराब बेचने के खिलाफ काम कर रही थी

महिला ने बताया, ‘’वो मुझे रोड पर मारते रहे। मैं कछ नहीं बोली। मैंने सिर्फ यही कहा कि मैंने नशे के खिलाफ आवाज उठाई है। नशा बंद होना चाहिए। हमारी कॉलोनी में खुला नशा बिकता है। वो भी पुलिस बूथ के सामने। कोई बोलता नहीं है और मैंने बोला तो उसकी मुझे सजा दी है।’’दिल्ली महिला आयोग के साथ मिलकर महिला इलाके के अवैध शराब बेचने के खिलाफ काम कर रही थी।

also read : पीएम को ‘नीच आदमी’ कहने वाले मणिशंकर अय्यर कांग्रेस से निलंबित

आरोप के मुताबिक छह दिसंबर की रात डीसीडब्लू की  इलाके में अपनी टीम के साथ पहुची थी और छापेमारी की। महिला आयोग ने एक शराब माफिया महिला के घर से 350 पेटी अवैध शराब भी ज़ब्त की थी। जिसके बाद आज सुबह इलाके की कुछ महिलाओं ने मिलकर उसे घर से निकाला मारा पीटा और कपड़े फाड़ दिए। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है और दो महिलाओं को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछाताछ जारी है।

महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा…
डीसीडब्ल्यू चीफ स्वाति जयहिंद के मुताबिक, ”नरेला में एक गैंग खुलेआम शराब बेचता है। यहां एक घर से हमने शराब बरामद की। 50 मीटर की दूरी पर पुलिस का मालखाना है। क्या उन्हें पता नहीं चलता? पुलिस की मिलभगत से सब काम हाे रहा है, वो हफ्ता लेकर बैठ जाते हैं।”

Also Read: इस मुस्लिम गौ सेवक से सीख लेनी चाहिये लोगों को

सवालों के कटघरे में खड़ा कर दिया है

वहीं, पुलिस का यह भी कहना है, ‘’महिला को निर्वस्त्र करके घुमाने का आरोप गलत है। आरोपी और पीड़ित पड़ोस में ही रहने वाले हैं। पिटाई करने वालों में कोई पुरुष शामिल नहीं था। गंभीर चोट आने के बाद महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। राजधानी दिल्ली में हुई इस वारदात ने दिल्ली पुलिस और उसके काम करने के तरीकों को सवालों के कटघरे में खड़ा कर दिया है।

(साभार- एबीपी)

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More