अगर जिंदा रहना है तो मुस्लिम को वोट दो : ओवैसी

0 161

एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को एक बार फिर से बेहद तीखे अंदाज में केंद्र और भाजपा सरकार पर हमला बोला। उन्होंने महाराष्ट्र के बीड में एक रैली को संबोधित करते हुए यूपी के हापुड़ में हुई मौत का जिक्र करते हुये कहा, उठो अपने हक के लिये लड़ो।

सभा में सिर्फ मुस्लिम वोटरों पर ही फोकस रखा

अगर जिंदा रहना है तो अपने उम्मीदवार को वोट करो। अपने लोगों को जिताओ। आमतौर पर केंद्र पर हमलावर रहने वाले ओवैसी ने इस सभा में सिर्फ मुस्लिम वोटरों पर ही फोकस रखा। उन्होंने इस दौरान कई विवादित बातें भी कहीं।

….लेकिन किसी ने कासिम को पानी नहीं पिलाया

“रमजान का महीना खत्म नहीं हुआ कि हापुड़ में हमारे भाई कासिम जो बकरे का कारोबर करता है। उसको मार दिया गया। कासिम खेत में बैठकर अपने एक जानने वाले से बात कर रहा था। अचानक लोग इकट्टठा होकर उसे पीटने लगते हैं। ये झूठ बोल कर कि वो गाय कट रहा था। कासिम को इतना मारा जाता है। उसके पैर से गोश्त निकल जाता है। कासिम कहता है कि तुमने मुझे गाय के नाम पर मारा। कम से कम पानी दे दो, लेकिन किसी ने कासिम को पानी नहीं पिलाया।

Also Read :  अगर निकल रही है आपकी तोंद तो जरूर पढ़े

पूरी दुनिया ने देखा कि कासिम को पकड़कर ले जा रहे थे। मोदी भी देख रहे थे। मेरी आंखो से आंसू निकल गये। एक शेर को जब मध्य प्रदेश से उड़ीसा से ट्रांसफर किया जा रहा था तो उसे स्ट्रेचर पर लिटाया गया बेहोशी का इंजेक्शन दिया गया।

अब कहा गई गंगा जमुनी तहजीब

मैं हिंदुस्तान के भाइयो से कहना चाहता हूं कि आप से हाथ जोड़कर अपील कर रहा हूं। एक मुसलमान जिसने गाय को नहीं मारा उसको जमीन से खींचकर ले जा रहे हैं क्या ये इंसानियत है। कहां है हिंदू मुसलमान की एकता। कहां है गंगा जमुना की तहजीब। क्या ये भड़काउ भाषण है। ये सच्चाई है। मैं कासिम की मरी हुयी रुह से आपको बताना चाहता हूं। याद रखो अब देश में गंगा जमुना की तहजीब नहीं रही। ये सब सिर्फ किताबों में है। कासिम की मौत आपको सोचने में मजबूर कर देगी। तुम आज भीड़ में बैठकर आंसू मत लाओ..उठो जागो। सेक्युलरिज्म की बात झूठ है।

तुम उठो, बेदार हो, सोचो 70 साल से मुसलमानों का सिर्फ इस्तेमाल किया जा रहा है। हमको डरा डरा कर रखे। सेक्युलरिज्म को बचाना है तो। हमें मां और बहन के नाम पर गाली दी गई। सिर्फ दो लोगों को गिरफ्तार किया गया इस केस में। कासिम की मौत हो, या झारखंड में दो भाइयों की मौत हो। मोदी जी ये सब आपके दौर में हो रहा है। क्या यही है सबका साथ सबका विकास। अल्लाह कह रहा है कि अब मत डरो। तुम हमको कासिम बना दो, तुम जुनौद, पहलू , अलीमुद्दी , इसरात जहां कुछ भी हो जाये हम दीन ए इस्लान को नहीं छोड़ने वाले। मैं जब तक जिंदा रहूंगा मुजाहिद की तरह रहूंगा। मुझे तालियां नहीं चाहिये। बस इतना याद रखों अपने हक के लिये लड़ो।साभार

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More