सभी आश्रय गृहों और अनाथालयों में थर्मल स्क्रीनिंग कराएगी योगी सरकार

0 339

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने राज्य में महिला आश्रय गृहों, अनाथालयों और जूवेनाइल होम्स में रह रहे लोगों व कर्मचारियों की थर्मल स्कैनिंग करने का आदेश दिया है।

यूपी के मुख्य सचिव के सख्त आदेश

यूपी के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने सोमवार रात को कोरोनावायरस के प्रसार की जांच के लिए आवश्यक सभी एहतियातों को लागू करने के सख्त आदेश जारी किए। यह निर्णय कानपुर में एक सरकारी संवासनी गृह में 57 लड़कियों के कोविड-19 संक्रमित होने के बाद आया है।

जांच के लिए उपलब्ध होगा अवरक्त थमार्मीटर

मुख्य सचिव ने आदेश दिया कि संवासनी गृहों, नारी निकेतन, अनाथालयों और जूवेनाइन होम में कर्मचारी सहित सभी लोगों की जांच के लिए अवरक्त थमार्मीटर उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि सर्दी, खांसी या बुखार वाले किसी भी व्यक्ति को इन स्थानों में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

इन निर्देशों के कड़ाई से पालन करने के लिए पत्र को अतिरिक्त मुख्य सचिव और समाज कल्याण और महिला और बाल विकास विभागों के प्रमुख सचिवों को जारी किया गया है।

बरती जाएं सभी आवश्यक सावधानियां

इन आश्रय घरों के देखभालकतार्ओं को उपलब्ध कराए गए सुविधाओं में ही निवास करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सभी आवश्यक सावधानियां बरती जा रही हैं।

साफ-सफाई और स्वच्छता बनाए रखने के निर्देश

मुख्य सचिव ने आगे निर्देश दिया कि साफ-सफाई और स्वच्छता बनाए रखने के लिए वहां रह रहे लोगों को साबुन और डिटर्जेंट पाउडर प्रदान किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि इन सुविधाओं में रहने वालों को अपने चेहरे को ढंकने के लिए मास्क और रूमाल उपलब्ध कराने चाहिए। सामाजिक दूरी के मानदंडों का कड़ाई से पालन कराया जाना चाहिए।

लोगों की भी उचित जांच

कैदियों के आगंतुकों की संख्या कम से कम रखी जानी चाहिए और अगर मिलना अतिआवश्यक है तो आने वाले लोगों की भी उचित जांच की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें : भगवान जगन्नाथ के मंदिर तक पहुंचा कोरोना, मचा हड़कंप

यह भी पढ़ें : छात्रों के लिए खुशखबरी : अब बिना एग्जाम दिए अगली क्लास में मिलेगी एंट्री

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्पडेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More