दिल्ली में बदला मौसम का मिजाज, जमकर हुई बारिश…

0

गर्मी से तप रही देश की राजधानी दिल्ली में लोगों को बारिश की बाद हल्की सी राहत मिली. दिल्ली में अचानक बदले मौसम के मिजाज के बाद दोपहर बाद बारिश शुरू हो गई. पिछले कई दिनों से हीटवेव की मार झेल रही दिल्ली में बारिश के बाद तापमान में कुछ कमी आई है. मौसम विभाग ने कल अनुमान जताया था कि आज दिल्ली में बारिश हो सकती है. लेकिन इसे मानसून नहीं कहा जा सकता फिलहाल अभी दिल्ली में मानसून के लिए 30 जून तक का इंतजार करना पड़ सकता है.

कहीं धूप-कहीं बारिश…

दिल्ली में दोपहर के वक्त अभी जरूर बारिश हुई है जिससे लोगों को अभी राहत मिल गई है लेकिन कहीं धूप और कहीं गर्मी अभी भी राजधानी में लोगों को झुलसा रही है. वैसे देश के कई राज्यों में मानसून दस्तक दे चुका है दूसरी ओर पूर्वोत्तर की बात करें तो असम में बारिश का कहर देखने को मिल रहा है. आलम यह है कि वहां बाढ़ की स्थिति बन गई है. लेकिन उत्तर भारत में अभी हीटवेव का प्रकोप जारी है.

गर्मी ने तोड़े सारे रिकॉर्ड…

गौरतलब है कि इस बार दिल्ली में गर्मी से सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए है. दूसरी बात यह है कि इस बार गर्मी की अवधि सबसे ज्यादा है. बता दें कि 36 सबडिवीजन में 14 मार्च के 1 जून से 9 जून तक सबसे ज्यादा 15 गर्म दिन दर्ज किए गए जो अभी भी जारी है.

इन राज्यों में इतने दिन सबसे गर्म दिन…

बता दें कि इस बार की गर्मी में कई रिकॉर्ड टूटे हैं जिसके चलते इस बार देश के कई राज्यों में सबसे ज्यादा गर्म दिन दर्ज किए गए. इनमे सबसे ज्यादा ओडिशा में 27 दिन, राजस्थान में 23 दिन, इतना ही नहीं इस बार ठंड वाले प्रदेश भी नहीं बचे और हिमांचल प्रदेश में 12 और जम्मू- कश्मीर में 7 दिन लू का प्रकोप देखने को मिला.

”कौन कंगना रनौत, कोई बड़ी हीरोइन हैं?”, थप्पड़ कांड पर ये क्या बोल गए अन्नू कपूर …

जलवायु परिवर्तन का खतरा…

गौरतलब है कि यह लगातार तीसरा साल है जब लू को जलवायु परिवर्तन के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है. इतना ही नहीं इससे पहले कई रिसर्च से पता चला था कि देश में साल 2022 मार्च- अप्रैल और 2023 अप्रैल में अत्यधिक गर्मी भी जलवायु परिवर्तन के कारण हुई थी.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More