वाराणसीः NEET परीक्षा में गड़बड़ी पर आप ने खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा, किया प्रदर्शन

0

NEET परीक्षा परिणाम में गड़बड़ी के खिलाफ देशभर में चल रहे विरोध प्रदर्शन के इस दौर में वाराणसी में इस आंदोलन ने जोर पकड़ लिया है. मंगलवार को आम आदमी पार्टी के लोगों ने कचहरी के पास शास्त्री घाट पर धरना-प्रदर्शन किया. इस दौरान राष्ट्रपति के नाम सम्बोधित ज्ञापन भी सौंप कर मामले की उच्चस्तरीय जांच और दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की.

Also Read : पीएम मोदी का किसानों से संवाद कहीं डैमेज कंट्रोल तो नहीं

नौजवानों को अपने भविष्य को लेकर नहीं दिख रहा है रास्ता

प्रदर्शन के दौरान पार्टी के जिलाध्यक्ष ई. रमा शंकर सिंह पटेल ने सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि नीट परीक्षा देश की सबसे प्रतिष्ठित और बड़ी परीक्षाओं में एक है, लेकिन इसका पेपर भी लीक हो गया. बेरोजगारी और पेपर लीक समस्या से जूझ रहे नौजवानों को सरकार ने एक और झटका दे दिया है. यूपी में भी लगातार पेपर लीक हुए. इससे छात्रों और उनके परिवारों को आर्थिक व मानसिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. भ्रष्टाचार में डूबी सरकार सभी परीक्षाओं का पेपर लीक होने के लिए जिम्मेदार है. वहीं नौजवानों को अपने भविष्य का कोई रास्ता नहीं दिख रहा है. आप के जिला महासचिव प्रो. अखिलेश पांडेय ने कहाकि नीट परीक्षा का परिणाम 14 जून को आना था, लेकिन आनन-फानन में चार जून को लोकसभा चुनाव के परिणाम के दिन ही घोषित किया गया. इससे सवाल उठता है कि किस गुनाह को छिपाने के लिए परिणाम इस दिन घोषित किया गया. वहीं जिस प्रकार 67 बच्चों को पूरे 720 अंक दिए गए, कुछ बच्चों को 718, 719 नंबर दिए गए जो कि असंभव है. क्योंकि एक प्रश्न छोड़ देने या गलत करने पर चार या पांच नंबर कम होने चाहिए. ऐसे में 718 और 719 नंबर कैसे दिए जा सकते हैं. इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि परीक्षा में गंभीर त्रुटि और भ्रष्टाचार किया गया है. उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी ज्ञापन के माध्यम से राष्ट्रपति से नीट परीक्षा के परिणाम के उच्च स्तरीय जांच और दोषियों को जेल भेजने की मांग करती है.

यह भी रहे शामिल

परीक्षा परिणाम को लेकर हुए प्रदर्शन में अमर सिंह पटेल, कमला प्रसाद सिंह, सुभाष चंद्र वर्मा, राहुल त्रिवेदी, रामजी सिंह, रेखा जायसवाल, पीयूष श्रीवास्तव, बृजेश पटेल, अब्दुल रकीब, रमेश पटेल, बनारसी पटेल, संजय कुमार, प्रेम कुमार यादव, अरविंद यादव, नितेश सिंह, विवेक गुप्ता, मदन पटेल आदि रहे.

छात्रों ने भी किया था प्रदर्शन

गौरतलब है कि नीट की परीक्षा को लेकर छात्रों ने भी सोमवार को बीएचयू सिंहद्वार पर प्रदर्शन किया था. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इकाई के कार्यकर्ताओं ने नीट परीक्षा परिणामों में हुई गड़बड़ी की सीबीआई जांच की मांग की. छात्रों ने कहा कि इस परीक्षा के आयोजन के दिन ही देश के अलग-अलग हिस्सों में गड़बड़ियां सामने आईं थीं और अलग-अलग स्थानों पर सॉल्वर पकड़े गए. साथ ही कुछ स्थानों पर प्रश्न पत्र बांटने आदि में भी गड़बड़ी मिली. कई जगहों पर ऐसी गड़बड़ी होने से यह भी स्पष्ट हो गया कि राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ने परीक्षा के आयोजन के लिए आवश्यक तैयारियां नहीं की थी. नीट के परीक्षा परिणाम में एक ही सेंटर से कई टॉपर्स होने से इस वर्ष के परीक्षा परिणाम पर कई तरह से संदेह उत्पन्न हो रहे हैं.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More