कार्तिक ने ऐसी बीन बजाई कि बांग्लादेश भूल गया नागिन डांस

0 206

श्रीलंका में खेले गए निदाहास ट्रॉफी टी-20 ट्राईसीरीज के फाइनल मुकाबले का आखिरी ओवर काफी रोमांचक रहा। टीम इंडिया को आखिरी ओवर में जीत के लिए 12 रनों की जरूरत थी। मैदान पर थे दिनेश कार्तिक और युवा खिलाड़ी विजय शंकर…

बांग्लादेशी कप्तान ने इस ओवर के लिए सौम्य सरकार को चुना और उन्हें मोर्चे पर लगाया। सौम्य सरकार बांग्लादेश के कोई रेगुलर गेंदबाज नहीं हैं। टीम इंडिया को 6 गेंदों में 12 रन चाहिए थे। लक्ष्य मुश्किल था, लेकिन नामुमकिन नहीं। यहीं टीम इंडिया ने दम दिखाया। पिछले ओवर में दिनेश कार्तिक ने तेज गेंदबाज रूबेल हुसैन के एक ओवर में 22 रन मारकर मैच को रोमांचक बना दिया था। अब 6 गेंदों में सिर्फ 12 रनों की जरूरत थी।

पहली गेंदः सौम्य सरकार ने पहली गेंद विजयशंकर को फेंकी, जो फुल टॉस थी, लेकिन वाइड निकली. भारत को एक रन मिला।
अब अगली गेंदः इसके बाद सौम्य सरकार की इस गेंद पर विजयशंकर कोई रन नहीं बना पाए। विजय शंकर का ये पहला बड़ा टूर्नामेंट था और वो दबाव में नजर आ रहे थे। काफी बॉल उनसे मिस हो रही थीं।

दूसरी गेंदः सौम्य सरकार की इस गेंद पर विजयशंकर ने एक्स्ट्रा कवर में खेलकर 1 रन लिया।

तीसरी गेंदः इसके बाद दिनेश कार्तिक स्ट्राइक पर आए सौम्य सरकार की गेंद पर एक रन लिया।

चौथी गेंदः एक बार फिर विजय शंकर स्ट्राइक पर थे और इस बार उन्होंने बल्ले का मुंह खोलते हुए गेंद आउट साइड ऑफ की ओर खेला और दो खिलाड़ियों के बीच जगह बनाते हुए गेंद ने सीमा रेखा को चूम लिया।

ओवर की ये पांचवीं गेंद थी, चूंकि पहली वाइड थी। शंकर ने इस गेंद को हवा में उठाकर खेला. दो खिलाड़ी दौड़ते हुए नीचे आए… लगा कि कैच छूट जाएगा, लेकिन एक खिलाड़ी की हथेलियों से गेंद फिसली और दूसरे खिलाड़ी मेहंदी ने कैच लपक लिया।

अंतिम ओवर की आखिरी गेंद… क्रीज पर थे दिनेश कार्तिक और सामने थे सौम्य सरकार...बांग्लादेश इतिहाज बनाने की दहलीज पर था और भारत भी एक गेंद में 5 रनों की जरूरत के साथ निदहास ट्रॉफी में ऐतिहासिक मोड़ पर। मैदान पर मौजूद और टीवी के पर्देर पर टकटकी लगाए करोड़ों लोग दिल थामकर इस क्षण को देख रहे थे। सौम्य सरकार की गेंद आई और कार्तिक ने जोरदार प्रहार किया।

गेंद दनदनाती हुई हवा में बाउंड्री को पार कर गई। इसी के साथ भारत ने एक थ्रिलर मुकाबला जीत लिया था और इस जीत के नायक रहे दिनेश कार्तिक…इस सीरीज में सबको चौंकाने वाले बांग्लादेश पर भारत का दम काबिज हो चुका था। पैवेलियन छोड़ मैदान की ओर दौड़ पड़े भारतीय टीम के बाकी खिलाड़ी और मैच के हीरो रहे दिनेश कार्तिक अचानक सबकी आंखों का तारा बन चुके थे। भारत ने अविश्वसनीय जीत के साथ सीरीज अपने नाम कर ली थी। 18 रन देकर 3 विकेट लेने वाले यजुवेन्द्र चहल को इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द मैच और दिनेश कार्तिक को हीरो ऑफ द मैच चुना गया। वॉशिंगटन सुंदर को हीरो ऑफ द सीरीज चुना गया।

aajtak

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More