वाराणसी: मुहर्रम के जुलूस में जमकर हुआ पथराव, ताजिया क्षतिग्रस्त, हिन्दू संगठन ने लगाए ‘जय श्रीराम’ के नारे

0 87

यूपी के वाराणसी में मुहर्रम का जुलूस निकालने के दौरान जमकर बवाल हो गया. यहां ताजिया ले जाने पर लोगों द्वारा जामुन का पेड़ काटने को लेकर विवाद शुरू हो गया, जोकि बाद में विकराल रूप ले लिया. पहले मारपीट हुई, फिर जमकर पथराव हुआ और साथ ही हथियारों का भी इस्तेमाल किया गया. इसमें पथराव में दर्जनों लोग घायल हुए हैं. दौड़कर ले जाने के चक्कर में ताजिया भी क्षतिग्रस्त हो गई. हिन्दू संगठन के लोगों ने जय श्रीराम और वंदेमातरम के नारे लगाए. पुलिस के पहुंचने के बावजूद भी पथराव होता रहा.

दरअसल, काशी में जंसा के नईबस्ती से ताजिया के साथ मोहर्रम का जुलूस मिर्जामुराद के करधना बाजार में पहुंचा था. ताजिये के लिए खदेरू साव की दुकान के सामने छायादार जामुन के पेड़ को कुछ लोग काटने लगे. पेड़ काटने का लोगों ने विरोध किया और कहा कि ताजिया जाने के लिए रास्ता पर्याप्त है. इसी बीच मारपीट शुरू हो गई और दुकानदार को लाठी-डंडों से पीट दिया गया. उसकी किराना दुकान को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया. इससे पूरा गांव में अफरातफरी मच गई.

मामले की जानकारी मिलते ही प्रतापपुर, बस्ती व अन्य बस्ती के सैकड़ों लोग पहुंच गए. बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचते ही ईंट-पत्थर चलने लगें. आक्रोशित लोगों की भीड़ देख जुलूस में शामिल लोग ताजिया लेकर भागने लगे, जिससे ताजिया भी क्षतिग्रस्त हो गई. सूचना पाकर मौके पर भारी मात्रा में पुलिस फोर्स पहुंची और लोगों को समझाने की कोशिश की. लोग नहीं मानें तो बल प्रयोग कर तितर-बितर किया गया. इसी दौरान हिन्दू संगठन के लोग भी जय श्रीराम व वंदेमातरम का नारा लगाते हुए पहुंच गए.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More