श्रीकांत त्यागी मामला: प्रयागराज में बनिया समाज ने दर्ज कराया मुकदमा, मददगारों का आपराधिक रिकॉर्ड खंगाल रही पुलिस

0 80

यूपी के नोएडा में महिला से अभद्रता, भद्दी-भद्दी गालियां और धक्कामुक्की करने वाले मुख्य आरोपी श्रीकांत त्यागी की मुसीबतें थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं. गिरफ्तार श्रीकांत त्यागी के खिलाफ अब प्रयागराज में पुलिस को तहरीर दी गई है, जिसमें पूरे बनिया समाज को अपमानित करने और गाली देने के मामले में मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की गई है. इससे पहले अदालत ने श्रीकांत त्यागी को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. वहीं, श्रीकांत ने जमानत के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाया है. इसके अलावा, श्रीकांत की फरार होने के दौरान कौन उसका मददगार था, पुलिस उनका भी रिकॉर्ड खंगाल रही है.

दरअसल, प्रयागराज के सिविल लाइंस इलाके के व्यापारी विपिन गुप्ता ने श्रीकांत त्यागी के खिलाफ ऑनलाइन शिकायत की है. शिकायत में कहा गया है कि श्रीकांत त्यागी ने न सिर्फ महिला से बदसलूकी व हाथापाई की, बल्कि जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर पूरे बनिया समाज को अपमानित किया है. श्रीकांत त्यागी के वीडियो वायरल होने से बनिया समाज के लोग आहत हैं. श्रीकांत के खिलाफ आईपीसी की धाराओं में केस दर्ज कर कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की गई है.

वहीं, शिकायतकर्ताओं का कहना है कि एफआईआर दर्ज नहीं होने पर अदालत का सहारा लिया जाएगा. अगर प्रयागराज में एफआईआर दर्ज होती है तो श्रीकांत त्यागी की मुश्किलें निश्चित तौर पर और बढ़ जाएंगी.

उधर, पुलिस श्रीकांत त्यागी की आपराधिक कड़ियां जोड़ने में लगी है, ताकि अदालत में उसके खिलाफ मजबूती से पक्ष रखा जा सके. इसके अलावा, पुलिस की मानें तो श्रीकांत त्यागी की फरार होने के दौरान उसके कौन-कौन मददगार बने थे, पुलिस उसके दोस्तों का रिकॉर्ड भी खंगाल रही है. ऐसे में नोएडा पुलिस श्रीकांत त्यागी के दोस्तों का भी कानूनी हिसाब करने की तैयारी में है. शासन स्तर से भी मददगारों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं.

पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए श्रीकांत त्यागी के सहयोगियों का आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है. उन पर किन-किन थानों में कौन-कौन से मुकदमे दर्ज हैं, इसकी भी जांच की जा रही है. इसके बाद गिरफ्तार किए गए लोगों पर भी धाराएं बढ़ाई जा सकती हैं.

बता दें मेरठ से गिरफ्तार किए गए श्रीकांत त्यागी पर गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज हो गया है. वहीं, सहयोगी राहुल पर भी गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है. पूरे मामले में अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. नोएडा के फेज-2 थाना अध्यक्ष परमहंस तिवारी के मुताबिक, श्रीकांत त्यागी के जिन लोगों ने फरारी दौरान मदद की, उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More