दिल्ली दंगे के मामले में शरजील इमाम को मिली जमानत

0

दिल्ली: दिल्ली दंगे से जुडी एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दिल्ली की एक कोर्ट ने दिल्ली में 2020 में हुए दंगों के केस में भड़काऊ भाषण देने के मामले में जेल में बंद शरजील इमाम को जमानत दे दी है. कोर्ट ने शरजील इमाम को वैधानिक जमानत दी है.शरजील ने मामले में सात साल की अधिकतम सजा की आधी सजा काट लेने का हवाला देकर जमानत मांगी थी, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया.

2019 में दिए थे भाषण…

बता दें कि शरजील ने कोर्ट के उस आदेश के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी जिसमें उसे अधिकतम सजा की आधी से ज्यादा सजा काट लेने के बाद भी बेल देने से इनकार कर दिया था.
दिल्ली पुलिस के अनुसार, इमाम ने कथित तौर पर 13 दिसंबर, 2019 को जामिया मिलिया इस्लामिया में और 16 दिसंबर, 2019 को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में भाषण दिया, जहां उन्होंने असम और शेष उत्तर पूर्व को देश से काटने की धमकी दी.

चार साल से अधिक जेल में है शरजील…

बता दें कि शरजील पर शुरुआत में ही राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया था. उसके बाद उनपर उपा की धारा 13 लगा दी गई.वह इस मामले में 28 जनवरी, 2020 को गिरफ्तार किया गया था.

जामिया में हुई थी हिंसा…

दिसंबर 2019 में जामिया नगर इलाके में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन चल रहे थे. प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प के बाद हिंसा भड़क गई थी, जिसको लेकर एफआईआर दर्ज की गई थी. शरजील इमाम पर 13 दिसंबर, 2019 को जामिया मिलिया इस्लामिया में भड़काऊ भाषण देकर दंगे भड़काने का आरोप लगाया गया था.

कम बजट में ज्यादा कूलिंग के लिए घर ले आएं ये गैजेट्स…

शरजील इमाम कौन हैं?

शरजील का जन्म बिहार के जहानाबाद जिले के काको में रसूखदार मुस्ल‍िम परिवार में हुआ था. उनके पिता अकबर इमाम जनता दल यूनाइटेड के नेता रहे हैं. शरजील की शुरुआती पढ़ाई पटना के सेंट जेवियर हाईस्कूल से हुई, जहां दसवीं तक की शिक्षा पूरी हुई. दसवीं में अच्छे नंबर आने के बाद 11वीं और 12वींक्लास के लिए दिल्ली पब्ल‍िक स्कूल वसंतकुंज में एडमिशन कराया गया. शरजील इमाम ने आईआईटी बॉम्बे से बीटेक और एमटेक किया है, जबकि 2013 में जेएनयू से आधुनिक इतिहास में पीजी की डिग्री पूरी की.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More