पाकिस्तान में वरिष्ठ पत्रकार की गोली मारकर हत्या, आरोपित फरार

0

पाकिस्तान में पत्रकारों के खिलाफ हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है. ऐसे में एक बार फिर से पाकिस्तान में एक पत्रकार को मौत के घाट उतार दिया गया है. जी हां, पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में एक वरिष्ठ पत्रकार पर उनके आवास के बाहर अज्ञात हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोलियां दागकर उन्हें मौत की नींद सुला दिया. इस मामले की जानकारी पुलिस ने बुधवार को दी है. जानकारी के मुताबिक, मृतक खलील जिब्रान के एक निजी समाचार चैनल खैबर के पत्रकार थे. उनके ऊपर बीते मंगलवार को अज्ञात हमलावरों ने उस समय हमलाकर दिया जिस दौरान वह अपने दोस्त के साथ अपने घर की तरफ जा रहे थे.

कार से बाहर निकालकर चला दी गोली

इस मामले की पड़ताल कर रही पुलिस ने बताया कि, रास्ते में जाते समय अचानक से पत्रकार की कार में खराबी आ गयी. उसी दौरान अज्ञात बंदूकधारियों ने उनकी कार को घेर लिया और उन्हें कार से बाहर निकालकर गोली मार दी. अधिकारी ने कहा कि, पत्रकार जिब्रान की इस हमले में मौके पर ही मौत हो गयी. वहीं कार में पत्रकार के साथ बैठे उनके वकील दोस्त और खलील (लैंडी कोटल प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष) बुरी तरह से जख्मी हो गए. घटना को अंजाम देने के बाद हमलावर मौका पाकर घटनास्थल से फरार हो गए. आतंकवादियों ने भी जिब्रान को धमकियां दी है. वहीं इस पूरे कांड से आक्रोशित मीडिया जगत व आम लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने पत्रकार की हत्या करने वाले हमलावरों को तुरंत पकड़ने की मांग की है. खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री अली अमीन गंदापुर ने अधिकारियों को पत्रकार की हत्या करने वालों को तुरंत गिरफ्तार करने का आदेश दिया है.

विधानसभा उपचुनाव पर फोकस करने में जुटे राजनीतिक दल

चारों तरह हो रही हत्या की निंदा…

एसोसिएशन ऑफ इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एडिटर्स एंड न्यूज डायरेक्टर्स यानी AEMEND ने जिब्रान के हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने की सरकार से मांग की है. एसोसिएशन ने एक बयान में ऐसी घटनाओं को रोकने में सरकार की विफलता की आलोचना की क्योंकि देश भर में पत्रकारों को लगातार यातना, अपहरण और धमकियों का सामना करना पड़ रहा है.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More