नए कलेवर में दिखेगी भगवान बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ, शुरू होगा लाइट एंड साउंड शो

एनालॉग डिजिटल सराउंडिंग सिस्टम और एडवांस लेज़र तकनीक से दिखाया जाएगा शो

0

वाराणसी में प्रसिद्ध भगवान बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ लाइट एंड साउंड शो के साथ अब यहां आनेवालों को नए कलेवर में दिखाई और सुनाई देगा. एनालॉग डिजिटल सराउंडिंग सिस्टम और एडवांस्ड लेज़र तकनीक से यह शो दिखाया जाएगा. इसमें भगवान बुद्ध के जीवन से जुड़े सारे प्रसंगों को समेटे हुए लाइट एंड शो का संचालन उच्च तकनीक से करने की तैयारी चल रही है. इसको दो भाषा में संचालित किया जाएगा. लाइट एंड साउंड शो में भविष्य में तीसरी भाषा पाली को भी जोड़ा जाना प्रस्तावित है. बता दें कि देव दीपावली के पहले पर्यटकों के लिए लाइट एंड साउंड शो शुरू किया था.

Also Read : पब्लिक रिलेशन्स सोसाइटी का चुनाव संपन्न, जाजोदिया दूसरी बार बने चैप्टर चैयरमैन…

35-40 मिनट का है शो

भगवान बुद्ध की जीवनी से जुड़े प्रसंग थ्री-डी इफ़ेक्ट में दिखाई देंगे. उपनिदेशक पर्यटन आरके रावत ने बताया कि लाइट एंड शो के पुराने स्क्रिप्ट को और विस्तृत किया जा रहा है. इसमें भगवान बुद्ध की संपूर्ण जीवनी रहेगी. लाइट एंड साउंड शो के कार्यक्रम की अवधि लगभग 35 से 40 मिनट की होगी. उन्होंने बताया कि अभी ये शो हिंदी और इंग्लिश भाषा में चलेगा, लेकिन भविष्य में इसमें पाली भाषा जोड़ने की योजना है.

18 करोड़ रुपये से किया जाएगा आधुनिकीकरण

उपनिदेशक पर्यटन ने बताया कि एनालॉग नार्मल की जगह अब एनालॉग डिजिटल सराउंड सिस्टम और एडवांस लेज़र बेस्ड तकनीक से लाइट एंड शो दिखाया जाएगा. नई टेक्नॉलजी से संचालित होने वाले शो में आवाज और पिक्चर की क्वालिटी काफी उच्च गुणवक्ता की होगी. सारनाथ में पहले से चल रहे लाइट एंड साऊंड शो को नए और आधुनिक तकनिकी से बनाया जा रहा है. इसकी लागत लगभग 18 करोड़ है. गौरतलब है कि देव-दीपावली के मौके पर चेतसिंह घाट, गंगा पार के रेत और काशी विश्वनाथ में भी लाइंट एन्ड शो का आयोजन हो चुका है

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More