राहुल गांधी ने कश्मीर को बताया आंतरिक मामला, पाकिस्तान ने दी नसीहत

0

जम्मू कश्मीर मामले को लेकर राहुल गांधी ने बयान जारी करते हुए कहा कि यह भारत का आंतरिक मामला है। वहीं, पाकिस्तान ने राहुल के बयान पर नसीहत देते हुए कहा कि कांग्रेस नेता अपने रुख पर कायम रहें। बताते चलें कि जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा दिए जाने के बाद से राजनीतिक सियासत तेज हो गई है। राहुल कश्मीर मुद्दे पर केन्द्र सरकार का समर्थन करते हुए इसे आंतरिक मामला करार दिया। साथ ही यह भी कहा कि इस मुद्दे पर किसी दूसरे देश को दखल देने की जरूरत नहीं है।

राहुल ने यह भी कहा कि कश्‍मीर में जो भी हिंसा हो रही उसकी वजह पाकिस्तान ही है। पाकिस्तान के उकसाने पर ही यह सब हो रहा। पाकिस्तान दुनिया भर में आतंकवाद का प्रमुख समर्थक है। राहुल का ये बयान आने के बाद पाकिस्तान के मंत्री ने फवाद चौधरी ने कहा है कि नसीहत दी है कि राहुल को अपने बयान पर कायम रहना चाहिए।

बताते चलें कि राहुल ने ट्वीट कर कहा कि वह सरकार के कई निर्णयों से सहमत हैं। हालांकि, यह भी साफ कर देना चाहते हैं, कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है। इस मसले पर किसी अन्य देश को किसी भी तरह का हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। साथ ही राहलु ने पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए कहा कि ‘जम्मू-कश्मीर में हिंसा का कारण पाकिस्तान का भड़काना है। पाकिस्‍तान की पहचान इसी रूप में है कि वह दुनियाभर में आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला देश है।’

यह भी पढ़ें:खुशहाली में पाकिस्‍तान और चीन से भी पिछड़ा है भारत

पाकिस्‍तान के प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद हुसैन चौधरी ने राहुल के बयान पर नसीहत देते हुए कहा कि राहुल मोतीलाल नेहरू की तरह मजबूती से खड़े रहें। लेकिन उनके राजनीति की समस्‍या कन्‍फ्यूजन है। बताते चलें कि राहुल का ये बयान उस दौरान आया है, जब पाकिस्‍तान सरकार ने कश्‍मीर मुद्दे पर संयुक्‍त राष्‍ट्र को दी गई एक शिकायत में राहुल गांधी के एक बयान का कथित तौर पर प्रयोग किया है। मीडिया रिपोर्ट सामने आने के बाद कांग्रेस बैकफुट पर है। कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने भी सफाई दी है।

सुरजेवाला ने बयान जारी करते हुए कहा कि कई ऐसी खबरें देखी, जिनमें पाकिस्तानी सरकार जम्मू एवं कश्मीर के मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र में दी गई कथित याचिका के हवाले से राहुल गांधी का नाम शरारतपूर्ण तरीके से घसीट रहे हैं। यह केवल इसलिए किया जा रहा कि पाकिस्तान द्वारा फैलाए जाने वाले झूठ को सच साबित किया जा सके। उन्होंने कहा कि विश्वभर में इस बात को लेकर कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत के अभिन्‍न अंग थे और हमेशा ही रहेंगे। पाकिस्तान की कपटपूर्ण षड्यंत्रों से इसको बदला नहीं जा सकता।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More