Sex Addiction लत है या बीमारी ?

0

Sex Addiction  : अमेरिका के अटलांटा क्षेत्र में एक स्पा सेंटर में गोलीबारी करने वाले एक युवक की गिफ्तारी के बाद ‘सेक्स एडिक्शन’ शब्द एक बार फिर चर्चा में आ गया है. वास्तव में, इस युवा ने अपने बचाव में कहा कि, घटना का कारण उसका सेक्स एडिक्शन था. इसके आगे युवक बताता है कि, स्पा सेंटर को देखकर उसका क्रोध बढ़ जाता था और इस हमले को स्पा से नफरत से अंजाम देता था. आरोपी ने बताया कि, सेक्स एडिक्शन की वजह से उसकी फैमली ने उसे घर से बाहर निकाल दिया था, जिसेके बाद भी वह सेक्स एडिक्शन करता रहा. वह खुद बताता है कि, वह घंटों तक पॉर्न वीडियो देखा करता था.

इस पूरे मामले को पढने के बाद मन में उठने वाला सवाल यह है कि, सेक्स एडिक्शन लत है या बीमारी ? ऐसें में सेक्स की लत की वजह से किसी व्यक्ति का हिंसात्मक हो जाना की हालत में एक्सपर्ट और मनोवैज्ञानिक एक मत नहीं है. ऐसे में आइए पहले समझते सेक्स एडिक्शन होता क्या है , इसके लक्षण और कारण क्या होते है?

क्या होता है Sex Addiction ?

सेक्स एडिक्शन से मतलब है कि, व्यक्ति के अंदर अनियंत्रित यौन इच्छाएं, जिन्हे सेक्स एडिक्शन कहते है. इन्हें पूरा करने की उत्सुकता में लोग नियंत्रण खो देते हैं. जिसकी वजह से कई बार यह एक खतरनाक और हिंसक रूप भी ले लेता है. सेक्स एडिक्शन में सेक्स से जुड़ी हर क्रिया शामिल है. इन गतिविधियों में पोर्न देखना, हस्तमैथुन करना और यौन उत्तेजना के लिए जाना शामिल है. जब इंसान इन गतिविधियों को नियंत्रित नहीं कर पाता, तो उसे इस एडिक्शन का शिकार कहा जाता है.

सेक्स एडिक्शन को लेकर मनोचिकित्सक डॉ. मीनाक्षी बताती है कि, ” सेक्स एडिक्शन एक गंभीर मनोरोग है. इस मनोरोग का मरीज अपनी सेक्सुअल नीड्स पर कंट्रोल नहीं कर पाता है. इसके अलावा वह चाहकर भी इस काम से अपने मन को नहीं हटा पाता है और दोबारा वही काम करने लगता है. इसे सेक्स एडिक्शन कहते हैं. इस बीमारी को चुनिंदा गंभीर मनोरोग की श्रेणी में रखा गया है.”

सेक्स एडिक्शन के लक्षण

हमारे समाज में सेक्स एक अत्यंत संवेदनशील मुद्दा है, कोई व्यक्ति सेक्स एडिक्शन का शिकार है या फिर सेक्स के प्रति उसकी उत्सुकता सामान्य है या नहीं. सिर्फ मनोचिकित्सक और मनोवैज्ञानिक ही इसे निर्धारित कर सकते हैं. इस एडिक्शन के बारे में अधिकांश मनोचिकित्सक और मनोवैज्ञानिक मरीजों से कई बार मिलते हैं. लेकिन सेक्स एडिक्शन का पता लगाने के लिए कुछ आम लक्षण भी हैं, जैसे-

  1. बहुत लोगों के साथ अफेयर होना
  2. बहुत सारे वन नाइट स्टैंड
  3. बहुत सारे सेक्शुअल पार्टनर होना
  4. दिन में कई घंटे पोर्न देखना
  5. असुरक्षित यौन संबंध बनाना
  6. साइबर सेक्स
  7. सेक्स वर्कर्स की सेवाएं लेना
  8. सेक्स करने के बाद शर्मिंदगी महसूस होना
  9. सेक्स करने की इच्छा पर से नियंत्रण खो देना
  10. सेक्स के बारे में ही सोचते रहना या बातें करना
  11. सेक्स न कर पाने पर डिप्रेशन में चले जाना

सेक्स एडिक्शन के कारण

सेक्स की लत कैसे लग जाती है, इसके पीछे कोई वैज्ञानिक कारण नहीं है लेकिन कई तरह की मानसिक स्थितियां इसके पीछे जिम्मेदार मानी जाती हैं. जैसे कि डिप्रेशन, अकेलापन या फिर एक तरह की उदासी कई लोगों को सेक्सुअल बिहेवियर की तरफ ले जाती है. ऐसे लोगों में सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज होने का खतरा ज्यादा होता है.

Also Read : जाने Breast cancer जांचने का सही तरीका और समय ….

सेक्स एडिक्शन से ऐसे पाएं छुटकारा

  1. सेक्स एडिक्शन के लक्षण दिखने पर व्यक्ति को चाहिए वह सबसे पहले आपसाइकैट्रिस्ट या मनोचिकित्सक की सेवाएं ले.
  2. एडेक्ट व्यक्ति को चाहिए की वो काउंसिलिंग और बिहेवियर मॉडिफिकेशन की मदद ले, इससे उसके अंदर सकारात्मक बदलाव आएंगे.
  3. खुद को दूसरे कामों में रखें व्यस्थ, जैसे – म्यूजिक सुनना, लांग वॉक पर जाना, कम्यूनिटी सर्विस करना, सोशल वर्क में शामिल होना आदि.
  4. परिवार के साथ लंबा समय बीतना या परिवार के साथ कही बाहर घूमने जाना .
  5. सकारात्मक एक्टिविटी करना जैसे पेंटिंग बनाना, म्यूजिक सुनना, बुक पढना आदि.
  6. सेक्स एडेक्शन का शिकार होने वाले लोग भी संगठनों की मदद ले सकते हैं. ऐसी कई संस्थाए है जो सेक्स एडिक्शन एनोनिमस (एसएए) की थीम पर काम करती है. इतना ही नहीं ये मुफ्त दवाएं भी देती है.
Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More