स्वामी के साथ इस चर्चित आईपीएस की सेल्फी पर हंगामा

0 207

कर्नाटक की चर्चित आईपीएस ऑफिसर डी रूपा एक बार फिर से सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हैं, वजह है उनकी एक सेल्फी, जो उन्होंने बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी के साथ क्लिक की है, जैसे ही रूपा ने इस सेल्फी को ट्विटर पर पोस्ट किया, वैसे ही हंगामा मच गया क्योंकि कुछ लोगों को एक सरकारी अधिकारी के साथ राजनेता की सेल्फी बिल्कुल रास नहीं आयी और उन्होंने डी रूपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

सुब्रह्मण्यम स्वामी के साथ वाली सेल्फी पर सवाल

आपको बता दें कि कर्नाटक पुलिस की आईजीपी होमगार्ड और सिविल डिफेंस डी रूपा ने बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी के साथ एक सेल्फी पोस्ट करके लिखा है कि एक बहुमुखी व्यक्ति, जिनकी शिकायत के बिना(वो औरत जो जेल में में बड़ी ठाठ के साथ रह रही थी) जेल ही नहीं पहुंचती, उन्हें सलाम, सर आप लोगों के लिए प्रेरणाश्रोत हैं।

लोगों ने रूपा की सेल्फी को उनके पद के कद से जोड़ दिया

लोगों ने रूपा की सेल्फी को उनके पद के कद से जोड़ दिया है और लिखा है कि इन्हीं सब कारणों की वजह अधिकारियों की पोस्टिंग हमेशा सही जगह ही होती है। वैसे ये कोई पहला मौका नहीं है जब डी रूपा को इस तरह से ट्रोल किया गया है, इससे पहले भी जब उन्होंने अभिनेता से राजनेता बने कमल हासन के साथ तस्वीर खिंचवाई थी, तब भी हंगामा मचा था।

Also Read : ICICI बैंक के बोर्ड की बैठक कल, चंदा कोचर मामले पर हो सकती है चर्चा

कमल हासन की तस्वीर पर भी मचा था हंगामा

रूपा ने अपनी फोटो शेयर करते हुए लिखा था कि ‘तमिलनाडु के मेरे सभी दोस्तों के लिए यह तस्वीर, जब मेरी मुलाकात मशहूर एक्टर-डायरेक्टर कमल हासन से हुई।’ जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनसे सवाल पूछे जाने लगे कि क्या रूपा, कमल हासन की नई पार्टी ज्वाइन करने जा रही हैं, या फिर नौकरी छोड़ रही है।

किसी के साथ सेल्फी लेना उसके विचारों से सहमत होना नहीं

उस वक्त तो ट्रोल करने वालों को रूपा ने करारा जवाब दिया था, उन्होंनें लिखा था कि जब मैं किसी से मिलती हूं या फोटो क्लिक कराती हूं तो इसका मतलब यह नहीं होता कि मैं उनके विचारों और कामों से भी सहमत हूं। एक इंसान हर तरह के इंसान से मिल सकता है, बिना अपने व्यक्तित्व को खोए।

शशिकला की खोली थी पोल

गौरतलब है कि आईपीएस रूपा सोशल मीडिया पर काफी चर्चित हस्तियों में से एक हैं, उन्हें लोग लेडी सिंघम भी कहते हैं, पिछले दिनों वो सुर्खियों में तब आई थीं जब उन्होंने जेल में बंद शशिकला की पोल खोली थी। उन्होंने अपने सीनियर, यानी DGP के. सत्यनारायण राव पर ये आरोप लगाया था कि उनके कारण ही जेल में बंद शशिकला को वीआईपी ट्रीटमेंट दिया जा रहा है। शशिकला जिस बैरक में बंद हैं, वहां पर उन्हें एक पर्सनल किचन दिया गया है, उन्होंने बताया कि यह किचन बनवाने के लिए जेल प्रशासन को दो करोड़ रुपये दिए गए थे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More