दिल की बीमारियों से जूझ रहे बच्चों के लिए पहल

0 181

दिल की बीमारियों के शिकार निर्धन तबके के बच्चों के इलाज में लगी संस्था जेनेसिस फाउंडेशन की पहल पर आयोजित 20वें ‘सीईओज सिंग फॉर जीएफ किड्स’ कार्यक्रम में कई बड़ी कपंनियों के प्रमुखों व मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) ने गाने गाए। इस कार्यक्रम का मकसद दिल की बीमारियों से जूझ रहे वंचित वर्ग के बच्चों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना था। साल 2010 में इस मुहिम की शुरुआत हुई थी, तब से इस मकसद के लिए धन जुटाने के उद्देश्य से लगातार इसका आयोजन हो रहा है, जहां कंपनी प्रमुख गाने गाते हैं।

इन कंपनियों के सीईओ और डायरेक्टर हुए शामिल

कार्यक्रम में आईबस नेटवर्क के चेयरमैन संजय कपूर, प्रिज्म कंस्लटिंग के संस्थापक सीईओ शीरीष जोशी, टीम कंप्यूटर्स के सीईओ रंजन चोपड़ा, लर्निग पाम के अध्यक्ष अतुल आहूजा, वोडाफोन इंडिया के डायरेक्टर (रेगुलेटरी, एक्सटर्नल अफेयर्स व सीएसआर) पी. बालाजी, ऑल्ट्रन टेक्नोलॉजीज इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ संजीव वर्मा, नैपीनो ऑटो एंड इलेक्ट्रानिक्स लिमिटेड के सीएमडी विपिन रहेजा, रनवीक एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के एम डी विकास गुप्ता आदि शामिल हुए।

Also read : समाज के बंधनों से आगे निकलकर काम करना चाहती हैं महिलाएं

प्रेमा सागर हैं जेनेसिस फाउंडेशन की संस्थापक 

इस मौके पर जेनेसिस फाउंडेशन की संस्थापक प्रेमा सागर ने कहा, “पिछले कुछ सालों में इस कार्यक्रम ने जो सफर तय किया है वह सच में यादगार है। एक छोटे से कार्यक्रम से लेकर बड़े स्तर पर संगीत कार्यक्रम का आयोजन..जिसे हम आज देख रहे हैं, वास्तव में सुखद है कि हमने किस तरह से यह सफर तय किया है। लेकिन, आगे का सफर आसान नहीं होगा, अभी बहुत कुछ करना बाकी है। कई नन्हें बच्चों का दिल धड़कने के लिए एक मौके के इंतजार में है और हमें इस लड़ाई को लड़ने के लिए और ज्यादा लोगों से जुड़ने की जरूरत है।”

कई सालों से जुड़ा  है मॉनस्टर डॉट कॉम

इस मौके पर मॉनस्टर डॉट कॉम (मध्य पूर्व) के प्रबंध निदेशक संजय मोदी ने कहा कि मॉन्स्टर कई सालों से जेनेसिस फाउंडेशन के साथ जुड़ा है। अलग-अलग उद्योगों के सीईओ संगीत और नन्हें दिलों की रक्षा करने के उद्देश्य से आए हैं। औद्योगिक घरानों के प्रमुखों को इस नेक काम से जुड़ते देखकर खुशी हो रही है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More