राजातालाब तहसील में पेशकार व अधिवक्ताओं में मारपीट, दोनों पक्ष हुए लामबंद

वकीलों ने लगाये नारे, कर्मचारियों ने की तालाबंदी

0

वाराणसी के राजातालाब तहसील में कर्मचारियों और अधिवक्ताओं में मारपीट हो गई. इसके बाद दोनों पक्षों में एक-दूसरे पर आरोप लगाते हुए लामबंदी शुरू हो गई. इस मामले में दोनों पक्षों की ओर से थाना राजातालाब में तहरीर दी गई है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. विवाद और मारपीट के मामले को लेकर अधिवक्ताओं ने जहां बार एसोसिएशन में आरोपित कर्मचारी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया, वहीं अवैध रूप से धन उगाही का आरोप लगाया. अधिवक्ताओं ने परिसर में नारेबाजी भी की तो कर्मचारियों ने भी विरोध स्वरूप कार्यालयों में तालाबंदी कर दी.

Also Read: श्रद्धांजलि: अजय उपाध्याय अद्भुत अध्येता और पहले टेक्नोक्रेट संपादक थे

दी तहसील बार एसोसिएशन राजातालाब की मंगलवार को हुई आपात बैठक में अधिवक्ताओं ने आरोप लगाया कि तहसीलकर्मी प्रशांत द्वारा एक मुकदमे के सिलसिले में आए दिन अवैध रूप से पैसे मांग की जा रही थी. न देने पर मुकदमा करा देने की धमकी दी जाती है. बार एसोसिएशन के अध्यक्ष व महामंत्री समेत अन्य पदाधिकारियों ने एक स्वर से संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की उप जिलाधिकारी राजातालाब से मांग की.

दोनों पक्षों से दी गई थाने में तहरीर, लगाए आरोप

इस मामले में तहसील के वरिष्ठ अधिवक्ता सर्वजीत भारद्वाज की ओर से थाना राजातालाब में लिखित शिकायत दी गई है. आरोप लगाया गया कि मुकदमे की पैरवी की सिलसिले में कर्मचारी द्वारा अवैध रूप से एक लाख रुपए की मांग की गई. न देने पर तहसील के कर्मचारी और उपपजिलाधिकारी न्यायिक के पेशकार प्रशांत ने अधिवक्ता के साथ मारपीट की. दूसरी ओर तहसीलकर्मी और पेशकार प्रशांत की ओर से भी थाना राजातालाब में तहरीर देकर अधिवक्ताओं पर अपने ऊपर हमला करने का आरोप लगाया है. घटना के बाद तहसीलकर्मियों ने सभी कार्यालयों और न्यायालय में तालाबंदी कर दी. कर्मचारियों ने भी मारपीट मामले में कार्रवाई की मांग की है. गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से अधिवक्ताओं और कर्मचारियों में तल्खी बढ़ी हुई थी. कभी लेखपालों की हरकत से वकील नाराज दिखे तो कभी कर्मचारियों से विवाद के मामले भी सामने आये. दोनों पक्षों में आपसी मनमुटाव और बढ़ती दूरियों का नतीजा है कि मामला मारपीट तक पहुंच गया. जबकि अधिवक्ता और कर्मचारी तलसील की मजबूत कड़ी हैं.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More