दिल्ली शराब घोटाले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को मिली जमानत

सुप्रीम कोर्ट ने 1 लाख रुपये के बॉन्ड पर जमानत दे दी, 21 मार्च को किया गया था हिरासत में

0

दिल्ली शराब घोटाला मामले से जुड़े मनी लॉन्डरिंग में आरोपित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को दिल्ली कोर्ट ने 1 लाख रुपये के बॉन्ड पर जमानत दे दी है. उनकी जमानत अर्जी को राउज एवेन्यू कोर्ट ने मंजूर कर लिया है गौरतलब है कि 21 मार्च को केजरीवाल से पूछताछ के लिए ईडी उनके आवास पहुंचीं थी. इस दौरान 2 घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया था. सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में प्रचार करने के लिए उन्‍हें अंतरिम जमानत दी थी. अंतरिम जमानत की अवधि पूरी होने के बाद उन्‍होंने 2 जून को तिहाड़ जेल प्रशासन के समक्ष समर्पण किया था. ताज़ा मामले में सीएम केजरीवाल शुक्रवार को जेल से बाहर आ सकते हैं.

Also Read: दिल्ली के छात्र की वाराणसी में ट्रेन से कटकर मौत

वर्ष 2022 में हुआ था खुलासा

बता दें कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार ने एक नई शराब नीति लागू की थी और इसे 17 नवंबर 2021 को लागू किया था. तब दिल्ली में शराब की कुल 849 दुकानें खोली जानी थी. इसके लिए दिल्ली में 32 जोन बांटे गए थे इसके तहत एक जोन में 27 दुकानें खोले जाने का फैसला किया था. लेकिन अगले साल 8 जुलाई 2022 में एक रिपोर्ट के ज़रिए शराब घोटाले का मामला चर्चा में आया था. इसके बाद 17 अगस्त 2022 को ब्ठप् ने मामला दर्ज किया था. इसके बाद मनी लॉन्ड्रिंग का खुलासा होने के बाद म्क् ने भी मामला दर्ज किया. .आपको यह भी बता दें कि बता दें कि आम आदमी के तीन बड़े नेताओं पर पहले ही म्क् का शिकंजा कसा जा चुका है. इस मामले में अब तक कुल 16 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है. दिल्ली शराब घोटाला मामले के तार तेलंगाना से भी जुड़े हैं. म्क् ने ठत्ै (भारत राष्ट्र समिति) नेता और तेलंगाना के पूर्व मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव की बेटी के. कविता को पहले ही हिरासत में ले लिया था. आम आदमी पार्टी से दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, पूर्व कैबिनेट मंत्री सत्येंद्र जैन सलाखों के पीछे हैं. राज्यसभा सांसद संजय सिंह भी जेल भेजे गये थे, लेकिन बाद में उन्हें जमानत मिल गई थी.

आरोपों को लगातार खारिज करते रहे केजरीवाल

सीएम केजरीवाल ईडी और सीबीआई की ओर से लगाए गए आरोपों को लगातार खारिज करते रहे हैं. केजरीवाल ने कोर्ट में मनी लॉन्ड्रिंग और दिल्‍ली शराब घोटाला में अपनी संलिप्‍तता से इनकार करते रहे.. आम आदमी पार्टी की ओर से लगातार यह आरोप लगाया जाता रहा है कि सीएम केजरीवाल को इस मामले में फंसाया गया है. दिल्‍ली शराब घोटाला मामले में मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जमानत मिलने के बाद आम आदमी पार्टी की ओर से पहली प्रतिक्रिया समाने आई है. AAP ने X पर पोस्‍ट कर कोर्ट के फैसले पर खुशी जाहिर की है. AAP ने कहा, ‘सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं. BJP की ED की तमाम आपत्तियों को ख़ारिज करते हुए माननीय न्यायालय ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जमानत दे दी है.’ वहीं, AAP की वरिष्‍ठ नेता और दिल्‍ली कैबिनेट में मंत्री आतिशी मार्लेना ने भी रिएक्‍शन दिया है. उन्‍होंने एक्‍स पर पोस्‍ट कर लिखा- सत्‍यमेव जयते. सौरभ भाद्वाज ने एक्‍स पर पोस्‍ट कर लिखा, ‘PMLA के मामलों में किसी भी तरह की राहत के लिए सुप्रीम कोर्ट तक इंतज़ार करना पूरी न्याय व्यवस्था का दम घोट रहा था. निचली अदालतें भी समय पर न्याय दें, यह बहुत ज़रूरी था. हर मामला सुप्रीम कोर्ट जाए, यह सुप्रीम कोर्ट का बोझ बेवजह बढ़ा रहा था.’

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More