रामलीला में ‘राम-राम’ कहते दशरथ ने सचमुच में तोड़ा दम, लोगों को लगा एक्टिंग कर रहे…

0 1,309

उस शख्स से बड़ा राम भक्त कौन होगा जो राम राम जपते हुए ही प्राण त्याग दे। त्रेतायुग में राम ​के पिता दशरथ को अपने बड़े बेटे के वियोग में अपने प्राण त्याग दिए थे।

अब इस कलयुग में भी एक ऐसा ही दशरथ था जिसने राम से दूरी का विलाप करते हुए अपने प्राण त्याग दिए। मामला है उत्तर प्रदेश में बिजनौर का।

कलयुग के दशरथ-

bijnor_ramlila_dashrath_death

यहां एक रामलीला मंचन के दौरान ‘दशरथ’ का किरदार निभा रहे कलाकार राजेंद्र सिंह की हार्ट-अटैक से मौत हो गई।

उस समय स्टेज पर राम को वनवास के लिए भेजे जाने का दृश्य चल रहा था। राजा दशरथ बने राजेंद्र वियोग में राम-राम चिल्लाकर विलाप करने लगे।

तभी उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वह अचानक मंच पर गिर गए। हालांकि, दर्शकों को यह सब राजेंद्र के अभिनय का हिस्सा लगा और वे तालियां बजाने लगे।

पर्दा गिरने के बाद भी नहीं उठे राजेंद्र-

bijnor_ramlila_dashrath_death

हालांकि जब पर्दा गिरने के बाद भी राजेंद्र सिंह नहीं उठे तो उन्हें सहयोगी कलाकार राजेंद्र के पास पहुंचे।

तब उन्हें एहसास हुआ कि दशरथ का किरदार निभाते वक्त राजेंद्र सिंह ने राम के वन जाने के बाद उनके वियोग में मंच पर ही वास्तव में अपने प्राण त्याग दिए।

इस घटना के बाद रामलीला में शोक छा गया। रामलीला देखने पहुंचे दर्शकों की आंखों में भी आंसू आ गए।

20 साल तक निभाया दशरथ का किरदार-

bijnor_ramlila_dashrath_death

राजेंद्र सिंह पिछले 20 साल से इस रामलीला में राजा दशरथ का रोल अदा करते चले आ रहे थे और उनका अभिनय इतना सजीव था कि लोग भाव विभोर हो जाते थे।

लेकिन 14 अक्टूबर को अफजलगढ़ के हसनपुर गांव में 62 वर्षीय कलाकार की मौत हो गई। सैकड़ों लोगों ने राजेंद्र सिंह के अंतिम संस्कार में हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें: तालिबानी शासन में बुर्का जरूरी नहीं, अफगान महिलाओं को पहनना ही होगा हिजाब

यह भी पढ़ें: बुर्का पहनने के लिए लड़की पर बनाया जा रहा था दबाव, मौके पर पहुंची SDM और…

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More