शाहजहांपुर में बोले CM योगी- पहली बार श्रमिक और किसान प्राप्त कर रहा है सम्मान

पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में 594 किमी लंबे गंगा एक्सप्रेसवे की आधारशिला रखी।

0 226

पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में 594 किमी लंबे गंगा एक्सप्रेसवे की आधारशिला रखी। इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हम सबका सौभाग्य है कि शाहजहांपुर की धरती रामप्रसाद बिसमिल्ल से लेकर परमवीर चक्र विजेता की भी धरती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि 2014 से पहले जो भी घोषणाएं होती थीं, वह चुनाव तक ही सिमित रहती थी। लेकिन 2014 में भाजपा सरकार बनने के बाद से अब जोड़ने का काम हो रहा है।

1947 से 2014 तक उत्तर प्रदेश में सिर्फ डेढ़ एक्सप्रेसवे बना था:

सीएम योगी ने कहा कि आजादी के बाद जिन मुद्दों को नजरअंदाज किया गया उन सबको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महत्त्व दिया है। उन्होंने कहा कि 1947 से 2014 तक उत्तर प्रदेश में सिर्फ डेढ़ एक्सप्रेसवे बना था, लेकिन उससे बाद अब छह एक्सप्रेसवे बन रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहली बार श्रमिक और किसान सम्मान प्राप्त कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने मां गंगा के सम्मान के साथ ही कुंभ में सफाईकर्मियों के पैर धोए तो वहीं काशी में राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दे रहे श्रमिकों का भी सम्मान किया।

इन जिलों को जोड़ेगा गंगा एक्सप्रेसवे:

गंगा एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश के 12 जिलों से होकर गुजरेगा। यह एक्‍सप्रेस वे मेरठ से शुरू होकर हापुड़, बुलंदशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ से प्रयागराज तक 12 जिलों को जोड़ेगा। गंगा एक्‍सप्रेस-वे पर नौ जनसुविधा केंद्र, सात रेलवे ओवर ब्रिज, 14 दीर्घ सेतु, 126 लघु सेतु और 381 अंडरपास बनाने के साथ ही प्रवेश और निकासी के लिए 17 स्थानों पर इंटरचेंज सुविधा भी होगी।

 

यह भी पढ़ें: जड़ेजा की वजह से पूरी तरह खत्म हुआ इस दिग्गज खिलाड़ी का करियर, बना था ‘मैन ऑफ द मैच’

यह भी पढ़ें: मेगा ऑक्शन से पहले किस टीम ने किस खिलाड़ी को किया रिटेन, यहां देखिए पूरी लिस्ट

(अन्य खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें। आप हमेंट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More